DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दहेज उत्पीड़न में पति और सास को कैद

दहेज उत्पीड़न के आठ साल पुराने मामले में एसीजेएम 8 यशवंत कुमार सरोज की अदालत ने पति और सास को दोषी माना है। अदालत ने पति को दो साल और सास को एक साल कैद की सजा सुनाई। पति पर 10 हजार रुपये और सास पर पांच हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया गया है। अर्थदंड की तीन चौथाई राशि पीड़िता को दी जाएगी।

फरीदपुर के गांव रजपुरी ढकनी में रहने वाली धर्मशीला की शादी बिथरी चैनपुर के गांव अहियापुर निवासी रविंद्र से छह जून 2006 को हुई थी। आरोप था कि दहेज में बाइक और कृषि जमीन के लिए ससुराल वाले विवाहिता का उत्पीड़न करने लगे। मांग पूरी न होने पर 22 जून 2010 को उन्होंने विवाहिता को मारपीट कर घर से निकाल दिया। बिथरी चैनपुर पुलिस ने आरोपी पति रविंद्र और सास अशरफा के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:prisonment to husband and his mother in dowry case