Preparation of Malaria Control from Bactria in affected villages of Bareilly - बरेली के प्रभावित गांवों में बैक्टिरिया से मलेरिया कंट्रोल की तैयारी DA Image
22 नवंबर, 2019|8:04|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बरेली के प्रभावित गांवों में बैक्टिरिया से मलेरिया कंट्रोल की तैयारी

बरेली के प्रभावित गांवों में बैक्टिरिया से मलेरिया कंट्रोल की तैयारी

जानलेवा मलेरिया से जूझ रहे गांवों में अब बायोलाजिक कंट्रोल की कवायद शुरू हो गई है। लगातार कीटनाशक का छिड़काव होने के बाद भी अब तक प्लाज्मोडियम फाल्सीपेरम पर प्रभावी नियंत्रण नहीं हो सका है। ऐसे में एडी हेल्थ डा. प्रमिला गौड़ के निर्देश पर प्रभावित गांवों में सर्वे किया जाएगा। साथ ही वहां साफ पानी में ब्लीटिया बैक्टिरिया डाला जाएगा जो लार्वा को पनपने नहीं देता।

जिले के 4 ब्लाकों के 29 गांवों में प्लाज्मोडियम फाल्सीपेरम ने हमला बोला है। अब तक 8 हजार से अधिक मरीज सामने आ चुके हैं। चिंताजनक बात यह है कि मझगवां के बेहटाबुजुर्ग समेत कई गांवों में सवा माह से चल रहे अभियान के बाद भी अब तक प्लाज्मोडियम फाल्सीपेरम पर प्रभावी नियंत्रण नहीं हो सका है। मंगलवार को भी यहां 68 मरीज मिले जो चौंकाने वाला है। ऐसे में माना जा रहा है कि लार्वानाशक का छिड़काव अधिक प्रभावी नहीं हो रहा है। केमिकल कंट्रोल के कम प्रभाव को देखते हुए अब बायोलाजिकल कंट्रोल की तैयारी की जा रही है। इसके लिए प्रभावित इलाकों में सर्वे किया जाएगा और ब्लीटिया बैक्टिरिया साफ पानी में डाला जाएगा। यह लार्वा को मच्छर नहीं बनने देता। एडी हेल्थ के निर्देशन में डा. दीपक ने प्रोजेक्ट तैयार करना शुरू कर दिया है। उसके बाद प्रभावित इलाकों में बायोलाजिकल कंट्रोल की कवायद शुरू हो जाएगी।

8515 हुई प्लाज्मोडियम फाल्सीपेरम मरीजों की संख्या

जिले में अब तक प्लाज्मोडियम फाल्सीपेरम के मरीजों की संख्या 8515 हो चुकी है। मंगलवार को सभी ब्लाकों में आरडीटी किट से जांच की गई। इसमें मझगवां में 68 मरीज मिले। वहां एक मरीज मिला जिसे दोनों मलेरिया है। सभी का इलाज शुरू हो गया है। आरडीटी किट से जांच 13 सितंबर से शुरू हुई थी। लगातार पीएफ मरीजों की बढ़ती संख्या से साफ है कि शुरूआत में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के चलते ही इसका हमला बढ़ा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Preparation of Malaria Control from Bactria in affected villages of Bareilly