DA Image
23 अक्तूबर, 2020|8:25|IST

अगली स्टोरी

रुहेलखंड विश्वविद्यालय में फिर से शुरू हुई एमफार्मा की पढ़ाई

रुहेलखंड विश्वविद्यालय में फिर से शुरू हुई एमफार्मा की पढ़ाई

रुहेलखंड यूनिवर्सिटी में दो साल के सूखे के बाद आखिरकार मास्टर ऑफ फार्मेसी (एमफार्मा) की पढ़ाई शुरू हो गई। रुहेलखंड विवि में चल रहे एमफार्मा को तीन साल पहले ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (एआईसीटीई) ने मानक पूरे न करने पर दाखिले से रोक दिया था। अब एआईसीटीई की मंजूरी के बाद एफार्मा में तीन ब्रांच में इस सत्र से ही प्रवेश प्रक्रिया शुरू होगी। इसके लिए मंगलवार को अधिसूचना जारी कर दी जाएगी।

रुहेलखंड विवि में एफार्मा पाठ्यक्रम 2015-16 में शुरू हुआ था। फार्मास्यूटिकल्स केमिस्ट्री, फार्मास्यूटिक्स और फार्माकोलॉजी इन ब्रांच में छात्रों के प्रवेश भी हुए। दो साल तक कोर्स चला पर बाद में मानकों को पूरा न करने के कारण एआईसीटीई ने एमफार्मा में एडमिशन रोक दिया। 2017 के बाद इसमें एक भी प्रवेश नहीं हुए। हालांकि विभाग की ओर से कोशिशें की गई पर इसमें कामयाबी नहीं मिली। दरअसल इस कोर्स को शुरू कराने में तेजी तब आई तक विभागाध्यक्ष डॉ. शशिभूषण तिवारी बने। डॉ. शशिभूषण तिवारी ने डॉ. एसडी सिंह के साथ कोर्स शुरू करने के लिए मानकों को पूरा किया। इसके बाद फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया (पीसीआई) को पत्र भेजा। पीसीआई की टीम जनवरी में निरीक्षण करने पहुंची और एमफार्मा को मंजूरी दे दी। इसके बाद रुहेलखंड विवि की ओर से कोविड 19 लॉकडाउन के कारण इस कोर्स पर कोई निर्णय नहीं लिया गया। अब सोमवार को अचानक विवि की ओर से एमफार्मा खोलने को मंजूरी दे दी गई।

तीनों ब्रांच में 9-9 सीटें होंगी, 10 अक्तूबर तक आवेदन

एमफार्मा फार्मास्यूटिकल्स केमिस्ट्री, एमफार्मा फार्मास्यूटिक्स और एमफार्मा फार्माकोलॉजी नाम से तीन पाठ्यक्रम शुरू होंगे। इन तीनों में 9-9 सीटें होंगी। सोमवार को प्रवेश की अधिसूचना जारी होगी। 10 अक्तूबर तक ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया चलेगी। डॉ. शशिभूषण तिवारी ने बताया कि प्रवेश मेरिट के आधार पर होंगे। अर्हता बीफार्मा और जीपैट होगी। इसमें जीपैट में सफल छात्रों को एआईसीटीई 18 हजार रुपये की स्कॉलरशिप भी देगी। खास बात यह है कि एमफार्मा बरेली मंडल के कुछ चुनिंदा कॉलेजों में ही है। ऐसे में रुहेलखंड विवि में एफार्मा का कोर्स शुरू होना छात्रों के लिए सौगात जैसा है।

एमफार्मा को एआईसीटीई ने मंजूरी दे दी थी। अब विवि की ओर से सोमवार को आदेश जारी हो गया है। मंगलवार को अधिसूचना जारी कर दी जाएगी। 10 अक्तूबर तक ऑनलाइन आवेदन होंगे और प्रवेश मेरिट के आधार पर होंगे।

- डॉ. शशि भूषण तिवारी, विभागाध्यक्ष, एमफार्मा

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:MPharma resumed at Ruhelkhand University