DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बरेली में मच्छरों के खिलाफ मलेरिया विभाग का अभियान 20-ट्वेंटी

मलेरिया के बाद अब डेंगू की दस्तक से स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है। मच्छरों के खिलाफ चल रहे अभियान के साथ ही अब विशेष रणनीति बनाई गई है। इसमें जिले के संवेदनशील गांवों का चयन कर, बारी-बारी 20 गांवों में अभियान चलाया जाएगा। वहां शिविर लगाकर न केवल लोगों के स्वास्थ्य की जांच की जाएगी बल्कि हर 15 दिन में वहां रूटीन निरीक्षण किया जाएगा। साथ ही मलेरिया की चपेट में आए लोगों के बारे में रिकार्ड तैयार किया जाएगा।

जिले में चार ब्लाक मलेरिया की दृष्टि  से काफी संवेदनशील माने जा रहे हैं। इसमें मझगवां, भमौरा, आंवला और रामनगर शामिल है। बीते साल मलेरिया के सबसे अधिक मरीज इन चार ब्लाकों में ही मिले थे। इस बार मलेरिया विभाग यहां विशेष अभियान 20-गांव में मच्छर पर वार चलाने जा रहा है। अभियान में एक साथ 20 गांवों में शिविर लगाया जाएगा। वहां घर-घर लोगों को मच्छरों से बचाव के तरीके बताए जाएंगे।

साथ ही लोगों के स्वास्थ्य की जांच की जाएगी। अगर जांच में किसी को मलेरिया या संचारी रोग होने की पुष्टि होती है तो उसे तत्काल मौके पर दवा दी जाएगी। मलेरिया विभाग संवेदनशील गांवों में रोटेशन के तहत 15 दिन में दोबारा शिविर लगाकर लोगों की जांच करेगा। जिला मलेरिया अधिकारी डीआर सिंह ने बताया कि मच्छरों से बचाव के प्रति लोगों को जागरूक करने पर अधिक जोर दिया जा रहा है। साथ ही बीमार लोग इलाज के प्रति लापरवाही न बरतें और झोलाछाप के पास न जाएं, इस बाबत लोगों को जागरूक किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:mosquitoes campign start will be in bareilly