DA Image
Thursday, December 9, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशगर्भपात के दौरान प्रसूता की मौत, झोलाछाप फरार

गर्भपात के दौरान प्रसूता की मौत, झोलाछाप फरार

हिन्दुस्तान टीम,बरेलीNewswrap
Sun, 17 Oct 2021 03:21 AM
गर्भपात के दौरान प्रसूता की मौत, झोलाछाप फरार

झोलाछाप ने इलाज के बहाने एडमिट करके प्रसूता का गर्भपात कर दिया। गर्भपात के दौरान प्रसूता की मौत हो गई। पुलिस के पहुंचने से पहले झोलाछाप अस्पताल में ताला डालकर फरार हो गया। महिला के पति ने तहरीर दी है।

बिथरी चैनपुर के बहगुलपुर गांव के रमेश कुमार की पत्नी रीना देवी (33) को चार महीने का गर्भ था। रमेश कुमार ने बताया कि केसरपुर गांव का झोलाछाप फरीदपुर के बीसलपुर रोड पर अस्पताल चलाता है। शनिवार को रीना देवी के पेट में दर्द शुरू हुआ। रमेश कुमार पत्नी को लेकर झोलाछाप के अस्पताल पहुंचे। आरोप है झोलाछाप ने रीना देवी को चेकअप के लिए अंदर बुला लिया, जबकि रमेश को अस्पताल के बाहर बैठने की हिदायत दी। कई घंटे बाद भी रमेश को रीना के बारे में जानकारी नहीं दी गई तो वे जबरन अस्पताल के अंदर घुस गये। उन्होंने देखा कि अस्पताल के बेड पर रीना की मौत हो चुकी थी। रमेश कुमार ने झोलाछाप से जानकारी की तो उसने बताया कि गर्भपात के दौरान रीना देवी की मौत हो गई। उन्होंने पुलिस को सूचना दी। पुलिस के पहुंचने से पहले झोलाछाप अस्पताल में ताले डालकर फरार हो गया। पुलिस ने रीना देवी का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा। रीना देवी के पति रमेश कुमार ने झोलाछाप के खिलाफ गर्भपात करने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराने की मांग की। पुलिस ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मुकदमा दर्ज करने का भरोसा दिया। रीना देवी के दो बेटी और एक मासूम बेटा है। फरीदपुर इंस्पेक्टर अजय पाल ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

बोर्ड पर लिखे एमबीबीएस डॉक्टरों के नाम

फरीदपुर के गांव केसरपुर का रहने वाला झोलाछाप कई महीनों से बीसलपुर रोड पर ओम पब्लिक स्कूल के पास अस्पताल खोलकर महिलाओं का गर्भपात कर रहा था। लोगों को गुमराह करने के लिए कई डॉक्टरों के नाम अस्पताल के बोर्ड पर लिखा हैं। संपूर्ण समाधान दिवस में पहुंचे सीएमओ से लोगों ने शिकायत करके झोलाछाप का अस्पताल सील कराने की मांग की।

सोमवार को अस्पताल होगा सील

गर्भपात के दौरान प्रसूता की मौत होने के मामले में जांच कर रहे कस्बा इंचार्ज राजकुमार सिंह ने सीएचसी अधीक्षक डॉ. बासित अली को रिपोर्ट भेजकर झोलाछाप के अस्पताल को सील करने के लिए कहा। अधीक्षक डॉ. बासित अली ने बताया शनिवार को निरीक्षण किया गया। अस्पताल में ताले पड़े हुए थे। सोमवार को अस्पताल को सील किया जाएगा।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें