DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सॉल्वर को पकड़ने के लिए खूब बरेली के केंद्रों पर भी छापामारी

सॉल्वर को पकड़ने के लिए खूब बरेली के केंद्रों पर भी छापामारी

एलटी ग्रेड शिक्षक पद की लिखित परीक्षा रविवार को 30 केंद्रों पर आयोजित की गई लेकिन केंद्रों पर महिला स्टाफ की तैनाती नहीं की गई थी। इस वजह से छात्राओं की चेकिंग भी पुरुषों ने की। इस पर छात्राओं ने नाराजगी जताई। लखनऊ, इलाहाबाद में सॉल्वर में धरपकड़ की सूचना पर बरेली में भी खूब छापामारी हुई।

दूर सेंटर पड़ने के कारण 13,836 में से 4353 ने परीक्षा छोड़ दी। जबकि, 9483 उपस्थित रहे। पूर्वाह्न 11.30 से 1.30 बजे तक एक ही पाली में एलटी विज्ञान की परीक्षा थी। परीक्षा के लिए सुबह 10.30 बजे से परीक्षा केंद्रों पर इंट्री शुरू हो गई थी। परीक्षा को सकुशल संपन्न कराने के लिए शिक्षा विभाग के साथ पुलिस प्रशासन की टीम भी लगी रही। जैसे ही लखनऊ-इलाहाबाद में सॉल्वर पकड़े जाने की खबर आई, वैसे ही बरेली के केंद्रों पर छापामारी शुरू हुई। पर्यवेक्षकों के साथ पुलिस-प्रशासन ने भी आवेदकों की तलाशी ली लेकिन कुछ मिला नहीं।

बरेली कॉलेज में परीक्षा देने जा रही छात्राओं की चेकिंग के लिए कोई भी महिला की तैनाती नहीं की गई। इसे लेकर महिला परीक्षार्थियों ने नाराजगी दिखाई। जैसे-तैसे पुरुष शिक्षकों ने ही जांच की। इसमें भी कई चतुर्थ श्रेणी के कर्मी थे।

बाहरी आवेदकों से खूब हुई वसूली: दिन में बारिश होने के कारण आवेदकों और उनके साथ आए परिजनों को काफी परेशानी हुई। परीक्षा देने प्रदेश भर के अभ्यर्थी आए हुए थे। बाहर से आए अभ्यर्थियों से ऑटो-रिक्शा वालों ने मनमानी वसूली की। परीक्षा केंद्र के बाहर बैग-मोबाइल रखने को भी जेब ढीली करनी पड़ी।

बच्चों को लेकर घूमते रहे पति देव: परीक्षा देने वालों में महिलाओं की संख्या ज्यादा थी। परीक्षा केंद्रों में महिलाओं के जाने के बाद उनके पति या साथ आए परिजन बच्चों को लेकर घूमते रहे। पेपर खत्म होने के बाद ही इन लोगों को कुछ राहत मिली।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lt grade exam at bareilly