DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निगेटिव है ब्लड ग्रुप तो जिला अस्पताल जाने में है जोखिम

निगेटिव है ब्लड ग्रुप तो जिला अस्पताल जाने में है जोखिम

निगेटिव ब्लड ग्रुप के मरीजों के लिए जिला अस्पताल जाना जोखिम भरा हो सकता है। यहां के ब्लड यूनिट में निगेटिव ब्लड ग्रुप है ही नहीं। हालत यह है कि महज 6 यूनिट ही निगेटिव ग्रुप का खून यहां बचा है।आमतौर पर निगेटिव ब्लड ग्रुप कम ही मिलता है। इस परेशानी को दूर करने के लिए जिला अस्पताल की तरफ से समय-समय पर शिविर लगाया जाता है। लेकिन इस समय अस्पताल की ब्लड यूनिट में निगेटिव ब्लड ग्रुप की कमी हो गई है। ओ निगेटिव और बी निगेटिव ग्रुप का खून तो यूनिट में है ही नहीं। इसके चलते दोनों ब्लड ग्रुप वाले मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सीएमएस डा. केएस गुप्ता ने बताया कि कई ग्रुप के ब्लड के डोनर कम हैं और इसकी वजह से ही निगेटिव ब्लड ग्रुप की कमी हो गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lack of blood in district hospital