DA Image
23 नवंबर, 2020|4:00|IST

अगली स्टोरी

ट्रैक पर दिखी खामी, रेल संरक्षा आयुक्त ने पटरी की कराई नापजोख

ट्रैक पर दिखी खामी, रेल संरक्षा आयुक्त ने पटरी की कराई नापजोख

रेल सुरक्षा आयुक्त मोहम्मद लतीफ खान बीसलपुर से शहबाजनगर तक ब्रॉडगेज ट्रैक का मोटर ट्राली से निरीक्षण किया। इस दौरान उनको पुल और कर्व पर कुछ कमी दिखाई दी। कई जगह मोटर ट्रॉली पर झटके लगे। तो उन्होंने तुरंत ही इंजीनियरिंग स्टाफ से पटरी की नाक जो कराई। कुछ कमियां मिलीं तो अधिकारियों को फटकारा। तत्काल ही उन कमियों को दूर करने के निर्देश दिया। पहले दिन बीसलपुर से निगोही तक 22.53 किलोमीटर तक मोटर ट्रॉली से निरीक्षण हुआ।

पूर्वोत्तर परिक्षेत्र लखनऊ के रेल संरक्षा आयुक्त मोहम्मद लतीफ खान ने मुख्य प्रशासनिक अधिकारी निर्माण आरके यादव, इज़्ज़तनगर मंडल रेल प्रबंधक आशुतोष पंत सहित निर्माण संगठन एवं मंडल के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ नवआमान परिवर्तित बीसलपुर-शहबाजनगर (41.97 किमी) रेल खंड का निरीक्षण किया।

पहले दिन शनिवार 31 अक्टूबर को बीसलपुर- निगोही (22.53 किमी) तक ब्रॉडगेज का निरीक्षण हुआ। रेल संरक्षा आयुक्त ने मार्गवर्ती सभी बडे़ एवं छोटे पुलों, समपारों, कर्वों, प्वाइंट्स, स्टेशन पैनलों आदि का गहन निरीक्षण मोटर ट्रॉली के माध्यम से किया। मंडल रेल प्रबंधके आशुतोष पंत ने स्थानीय जनता से अपील की है, एक नवबंर को शहबाजनगर से बीसलपुर तक स्पीड ट्रायल होगा। इसलिए लोग खुद व अपने मवेशियों को ट्रैक के पास न आने दें।

आज ही निरीक्षण और स्पीड ट्रायल

दूसरे दिन आज एक नवम्बर को निगोही -शहबाजनगर (19.71 किमी) का निरीक्षण होगा। इसी दिन शहबाजनगर से बीसलपुर रेल खंड पर 14.00 से 15.00 बजे के मध्य स्पीड ट्रायल भी किया जाएगा। जिसमें सीआरएस स्पेशल ट्रेन से स्पीच ट्रायल होगा गाड़ी को शाहबाजपुर से बीसलपुर तक 110 किलोमीटर प्रति घंटा से चला कर देखा जाएगा हिंदी क्षण में सब कुछ फाइनल होने पर ट्रेन संचालन को रफ्तार दी जाएगी।

426.74 करोड़ से बना ब्रॉडगेज

पीलीभीत-शाहजहांपुर (83 किमी) रेल खंड का आमान परिवर्तन कार्य की स्वीकृति वर्ष 2017-18 में शुरू की गई। 426.74 करोड़ की अनुमानित लागत से पूरा होगा। पीलीभीत-शाहजहाँपुर रेल खंड का आमान परिवर्तन करने के लिए 30 मई, 2018 से इस रेल खंड पर मीटर गेज रेल गाड़ियों को संचलन बंद हुआ था। आमान परिवर्तन परियोजना के प्रथम चरण में पीलीभीत-बीसलपुर रेल खंड का आमान परिवर्तन कार्य पूर्ण हुआ। रेल संरक्षा आयुक्त ने।10 एवं 11 फरवरी 2020 को निरीक्षण किया था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Flawed on the track the Railway Safety Commissioner got the track cleared