DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › विवादों में घिरीं डीएसओ का इटावा तबादला, नीरज सिंह होंगे नए डीएसओ
बरेली

विवादों में घिरीं डीएसओ का इटावा तबादला, नीरज सिंह होंगे नए डीएसओ

हिन्दुस्तान टीम,बरेलीPublished By: Newswrap
Thu, 08 Jul 2021 03:40 AM
विवादों में घिरीं डीएसओ का इटावा तबादला, नीरज सिंह होंगे नए डीएसओ

डीएसओ सीमा त्रिपाठी तीन साल के कार्यकाल में कई बार विवादों में घिरीं। जिससे विभाग की जमकर किरकिरी हुई। मुख्यमंत्री तक तमाम शिकायतें पहुंचीं। इसके बाद उनका सात जुलाई को इटावा तबादला कर दिया गया। अब बरेली के नए डीएसओ नीरज सिंह होंगे, जो मेरठ से बरेली ट्रांसफर किए गए हैं।

बरेली की डीएसओ सीमा त्रिपाठी ने मई 2017 में बरेली में कार्यभार संभाला था। दो महीने बाद ही दिसंबर में हाफिजगंज क्षेत्र में खाद्यान्न का एक बड़ा प्रकरण पुलिस ने छापामारी कर पकड़ा था। डीसीएम में सरकारी खाद्यान्न पुलिस ने पकड़ा। यह मामला शासन तक पहुंचा। क्योंकि, फरीदपुर के पूर्व चेयरमैन के बेटे रविंद्र गुप्ता भी इस मामले में संलिप्त पाए गए थे। कई व्यापारियों के भी नाम इस प्रकरण से जुड़े। इस मामले में तीन दिन तक आरोपियों को बचाने का कार्य किया गया। मुख्यालय स्तर पर जब फटकार पड़ी तो सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाना पड़ा। इसी तरह से बरेली में बारादरी क्षेत्र में एक घर के अंदर सरकारी खाद्यान्न पकड़ा गया। क्यारा ब्लाक में भी एक घर के गोदाम में 450 बोरी खाद्यान मिला। माधोबाड़ी के एक निजी गोदाम में 430 कट्टे बरामद हुए। सीबीगंज में सरकारी खाद्यान पकड़ा गया। हर मामले में लीपालोती का प्रयास हुआ। कई बार शासन स्तर पर कोटेदार यूनियन ने भी शिकायत की थी। जिसमें तमाम कोटेदार भी डीएसओ के खिलाफ हो गए थे। हाल में ही श्री सिद्धिविनायक गैस एजेंसी के सिलेंडरों में घटतौली का मामला पकड़ा गया। पांच महीने से डीएसओ सीमा त्रिपाठी को हटाने की प्रक्रिया चल रही थी। कोरोना के कारण ट्रांसफर नहीं हो सका। बरेली में तमाम बायो डीजल के नाम पर पेट्रोल पंप खुलने में भी डीएसओ की भूमिका संदिग्घ बताई गई। पेट्रोल पंप एसोसिएशन की ओर से शासन में शिकायत की गई। सोमवार को शासन ने डीएसओ सीमा त्रिपाठी को इटावा ट्रांसफर कर दिया। अब मेरठ से नीरज सिंह को बरेली का चार्ज दिया गया है।

संबंधित खबरें