DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › वोट की सौदेबाजी में दगा, रकम वापसी को लेकर मारपीट
बरेली

वोट की सौदेबाजी में दगा, रकम वापसी को लेकर मारपीट

हिन्दुस्तान टीम,बरेलीPublished By: Newswrap
Thu, 29 Jul 2021 04:01 AM
वोट की सौदेबाजी में दगा, रकम वापसी को लेकर मारपीट

एक ब्लाक प्रमुख प्रत्याशी से वोट की सौदेबाजी में एक बीडीसी सदस्य ने दगाबाजी कर दी। उसने उससे एक लाख रुपए लेने के बाद भी उसे वोट नहीं दिया। जब प्रत्याशी के समर्थक ने उससे रुपए वापस मांगे तो वह उससे गाली गलौज कर मारपीट करने लगा। जिससे गुस्साए प्रत्याशी के समर्थकों ने उसे पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया।

बीडीसी चुनाव में एक बीडीसी सदस्य ने एक ब्लाक प्रमुख प्रत्याशी से अपने वोट का सौदा करते हुए उससे एक लाख रुपए ले लिए। बाद में सदस्य ने दूसरे उम्मीदवार का दामन थाम लिया। वह दूसरे प्रत्याशी के साथ पिकनिक पर चला गया और कई दिन मौज-मस्ती करने के दौरान के फोटो भी उसने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर डाले। उसने रुपये देने वाले प्रत्याशी के खिलाफ बयानबाजी भी की। इलेक्शन के बाद भी वह खुलेआम कहता फिर रहा था कि उसने रुपये देने वाले प्रत्याशी को वोट न देकर पिकनिक पर ले जाने वाले प्रत्याशी को वोट दिया। रुपये लेकर दगाबाजी का पता चलने पर प्रत्याशी ने रुपये वापस मांगे तो वह उसे टरकाने लगा। बुधवार शाम रुपये के लेनदेन का बिचौलिया जब तकादा करने पहुंचा तो बीडीसी सदस्य गाली-गलौज कर मारपीट करने लगा। बिचौलिए ने प्रत्याशी व समर्थकों के साथ मिल उसे पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। बाद में दोनों पक्षों के लोगों के बीच समझौते के बाद उसने आधे रुपए वापस कर दिए। शेष रुपए कुछ दिनों में वापस देने का उसने वादा किया है। जिसके बाद पुलिस ने उसे छोड़ दिया।

गीदड़ों का नहीं, शेरों का दिया साथ

रुपये लेकर भी वोट न देने वाले बीडीसी सदस्य ने सोशल मीडिया पर दूसरे प्रत्याशी की पिकनिक पार्टी की मौजमस्ती के फोटो पोस्ट करने के साथ ही कई ऐसे बयान भी पोस्ट किए जो और विवाद का कारण बने। उसने मैसेज पोस्ट किया कि गीदड़ों का साथ न देकर उसने शेरों का साथ दिया है। राजनैतिक गलियारों में इस मैसेज की काफी चर्चा रही।

दोनों पक्षों के बीच रुपयों के लेनदेन के विवाद की शिकायत मिली थी। दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया है। जिसके बाद आरोपी को छोड़ दिया गया है।

- धनंजय सिंह, कोतवाल नवाबगंज

संबंधित खबरें