ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशजब तक स्वस्थ रहकर की वफादारी, मिलता रहा खाना, बीमार हुआ तो मालिक ने पैर बांधकर बोरे में बंदकर नाले में फेंक दिया

जब तक स्वस्थ रहकर की वफादारी, मिलता रहा खाना, बीमार हुआ तो मालिक ने पैर बांधकर बोरे में बंदकर नाले में फेंक दिया

जब तक बेजुबान ने मालिक के साथ बफादारी दिखाई। घर की सुरक्षा करता रहा। घर में अजनबियों को देखकर भौंकता रहा। तब तक उसकी देखभाल होती रही। जब वह बीमार हो...

जब तक स्वस्थ रहकर की वफादारी, मिलता रहा खाना, बीमार हुआ तो मालिक ने पैर बांधकर बोरे में बंदकर नाले में फेंक दिया
हिन्दुस्तान टीम,बरेलीSun, 26 May 2024 07:15 PM
ऐप पर पढ़ें

जब तक बेजुबान ने मालिक के साथ बफादारी दिखाई। घर की सुरक्षा करता रहा। घर में अजनबियों को देखकर भौंकता रहा। तब तक उसकी देखभाल होती रही। जब वह बीमार हो गया, तो प्लास्टिक की बोरी में पैर बांधकर बंद करके नाले में फेंक दिया। यह पशु क्रूरता बरेली के सुभाष नगर में दिखी।
पीपुल्स फॉर एनिमल के रेस्क्यू प्रभारी धीरज पाठक ने बताया कि संभवता उसे त्वचा या ब्लड कैंसर है। सूचना मिलते ही धीरज टीम के साथ पहुंचे थे। डॉग नाले में बोरी में बंद पड़ा था। उसका मुंह बोरी से बाहर था। पैर कपड़े से बंधे हुए थे। उसकी आंखों से आंसू बह रहे थे। शायद वह मालिक को याद करके रो रहा था। धीरज पाठक ने उस लेब्रा को बाहर निकाला। अपने शेल्टर होम लेकर गए। वहां उसका इलाज चल रहा है। डॉग मालिक का पता चलने पर उसके खिलाफ पीएफए की ओर से पशु क्रूरता अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कराएंगे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।