DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  नेताओं के इशारे पर खनन कार्रवाई नहीं कर पा रहा प्रशासन
बरेली

नेताओं के इशारे पर खनन कार्रवाई नहीं कर पा रहा प्रशासन

हिन्दुस्तान टीम,बरेलीPublished By: Newswrap
Wed, 02 Jun 2021 03:40 AM
नेताओं के इशारे पर खनन कार्रवाई नहीं कर पा रहा प्रशासन

इज्जतनगर के मुड़िया चावड़ रम्पुरा माफी व अहलादपुर इलाके में जबरदस्त खनन किया जा रहा है। नेताओं के इशारे पर उनके खास लोग जेसीबी से खनन कर रहे हैं। पुलिस प्रशासन खनन रोकने में फेल साबित हो रहा है। सोेमवार को पकड़े गये हमले के आरोपी को पुलिस ने जेल भेज दिया।

सोमवार को एसडीएम सदर विशु राजा स्टाफ के साथ रम्पुरा माफी गांव में खनन रोकने गये थे। इस दौरान उनके ऊपर दबंगों ने हमला कर दिया। फायर कर उनके ड्राइवर को थप्पड़ मारा। इस मामले में थाना इज्जतनगर में मुनीश कुमार, ऋषिपाल और लालकरन समेत अज्ञात के खिलाफ हत्या के प्रयास, मारपीट, जान से मारने की धमकी, एससी एसटी और अवैध खनन के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस ने मनीष को गिरफ्तार किया था। मंगलवार को मनीष को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया। सूत्रों के मुताबिक एसडीएम जिस खनन को रोकने गये थे। वह एक ढाबा मालिक की जेसीबी थी। माफिया एसडीएम के स्टाफ को देखकर फरार हो गये थे। लेकिन उनके खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

खनन पकड़ते ही घनघनाने लगते हैं नेताओं के फोन

विधायक सांसद से लेकर तमाम लोग इज्जतनगर के खनन से जुड़े हुये हैं। खनन का मामला पकड़े जाने के बाद तुरंत ही उन्हें छुड़ाने के लिये नेताओं के फ़ोन घनघनाने लगते हैं। यही वजह है कि पुलिस प्रशासन इन पर शिकंजा नहीं कस पा रहा है। सोमवार को एसडीएम के स्टाफ ने मारपीट करने वाले दबंगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवा दिया लेकिन खनन करने वाले असली गुनहगार बच गये।

दबंगों का लाइसेंस निरस्त करायेगी पुलिस

एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने बताया कि मुकदमे के आरोपियों की तलाश की जा रही है। उनकी लाइसेंसी बंदूक बरामद की गई है। उसका लाइसेंस निरस्त करने की रिपोर्ट डीएम को भेजी जायेगी। फरार आरोपियों के गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमों को लगाया गया है।

संबंधित खबरें