DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इकलौती बेटी वालों को मिलेंगे प्रधानमंत्री आवास

महिला सशक्तीकरण को बढ़ावा देने के लिए केंद्र ने एक और पहल की है। अब इकलौती बेटी वाले परिवारों को प्रधानमंत्री आवास का तोहफा मिलेगा। साथ ही किन्नर और शहीद सैनिकों के रिश्तेदारों को भी प्राथमिकता के आधार पर प्रधानमंत्री आवास दिए जाएंगे। दरअसल, केंद्र में मोदी सरकार आने के बाद इंदिरा आवास योजना को बंद कर दिया गया था। इसके स्थान पर प्रधानमंत्री आवास योजना लागू की गई। इस योजना के तहत गरीबों को आवास दिए जा रहे हैं। सरकार ने सामाजिक-आर्थिक गणना 2011 के तहत प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए पात्र व्यक्तियों का चयन किया था। जिलेवार प्रशासन को पात्रों का चयन कर सत्यापन के लिए लिस्ट भेजी थी। इसमें कुछ ऐसे लोगों का चयन कर दिया गया, जिनके पास पक्के मकान निकले। प्रशासन ने इसकी रिपोर्ट शासन को भेज दी। ऐसे में शासन ने योजना के लाभार्थियों के चयन की गाइडलाइंस में बदलाव कर दिया। अब लाभार्थियों के चयन करते वक्त इकलौती बेटे वाले गरीब परिवारों को प्राथमिकता दी जाएगी। इसके अलावा किन्नर और शहीदों के रिश्तेदारों को भी प्राधमंत्री आवास देने को कहा गया है। प्रधानमंत्री आवास योजना की नई गाडइलाइंस के बाद प्रशासन ने इकलौती बेटी वाले परिवारों की तलाश शुरू कर दी है। एक आवास के लिए सरकार 1.20 लाख की रकम सीधे लाभार्थी को देती है। इसके अलावा 12 हजार रुपये शौचालय निर्माण और लाभार्थी को आवास बनाने के लिए मनरेगा से 90 दिन की मजदूरी का भुगतान भी किया जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:those who have only daughter will get the Prime Minister's residence in bareilly