DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आधार कार्ड नहीं तो भूल जाओ सब्सिडी

किसानों को अब बगैर आधार के खाद-बीज और कृषि यंत्रों पर सब्सिडी नहीं मिल सकेगी। केंद्र की सख्ती के बाद जिन किसानों के पास आधार कार्ड नहीं हैं, उन्हें कृषि विभाग से पूरी कीमत पर प्रमाणित बीज और खाद खरीदनी पड़ेगी। बरेली में अभी करीब 25 फीसदी किसानों के आधार कार्ड नहीं बन सके हैं। हालांकि गांव-गांव कैंप लगाकर इसे बनाने की प्रशासन तैयारी कर रहा है। सरकार अभी तक किसानों को बगैर आधार के सब्सिडी दे रही थी। डीबीटी के तहत पंजीकरण कराने वाले किसानों के बैंक खातों में सब्सिडी भेज दी जाती थी। लेकिन अब सरकार ने इस पर पाबंदी लगा दी है। किसानों को सब्सिडी लेने के लिए आधार जरूर साथ लाना होगा। ऑनलाइन फीडिंग के दौरान आधार नंबर दर्ज होगा। जिनके पास आधार नंबर नहीं होगा उन्हें सब्सिडी नहीं मिल सकेगी। सरकार के फैसले से बड़ी संख्या में किसान अनुदान लेने से चूक जाएंगे। इन दिनों खरीफ का बीज कृषि विभाग अपने सेंटरों से मुहैया करा रहा है। धान के बीज पर 130 रुपये किलो की सब्सिडी है। ऐसा ही दूसरे बीज और खाद पर सब्सिडी दी जाती है। कृषि यंत्रों पर किसानों को सब्सिडी का हिस्सा बहुत अधिक होता है। ट्रैक्टर, सोलर पंप समेत तमाम कृषि यंत्रों पर सब्सिडी दी जाती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:subsidy laps without aadhar card