DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बाराबंकी › बाराबंकी-सौरभ, विदुषी व कृष्णम रस्तोगी को मिला कुलाधिपति पदक
बाराबंकी

बाराबंकी-सौरभ, विदुषी व कृष्णम रस्तोगी को मिला कुलाधिपति पदक

हिन्दुस्तान टीम,बाराबंकीPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 09:20 PM
बाराबंकी-सौरभ, विदुषी व कृष्णम रस्तोगी को मिला कुलाधिपति पदक

बाराबंकी। श्री रामस्वरूप मेमोरियल विश्वविद्यालय का पहला दीक्षांत समारोध धूमधाम से मनाया गया। कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए इस दौरान स्नातक, स्नातकोत्तर और डक्टरेट विद्यार्थियों को कुल 2954 डिग्री अनलाइन प्रदान की गईं। सिर्फ स्वर्ण और रजत पदक विजेताओं को ही आमंत्रित किया गया था। 79 विद्यार्थियों को स्वर्ण पदक, 54 विद्यार्थियों को रजत पदक जबकि 68 डक्टरेट विद्यार्थियों को पीएच़डी़ डिग्री से सम्मानित किया गया। मुख्य अतिथि प्रो़ वी़एऩ राजशेखरन पिल्लई ने पहले दीक्षांत समारोह के आयोजन पर विश्वविद्यालय को बधाई दी।

मुख्य अतिथि यूजीसी के पूर्व अध्यक्ष प्रो़ वी़एऩ राजशेखरन पिल्लई, कुलाधिपति ई़ पंकज अग्रवाल, प्रतिकुलपति ई़ पूजा अग्रवाल, कुलपति प्रो़ एक़े़ सिंह व विशिष्ट अतिथि ड़ा सुधीर मिश्रा व पद्मश्री प्रह्लाद सिंह टिपानिया ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम आरंभ किया। दीक्षांत समारोह की शुरुआत प्रो़ एक़े़ सिंह के स्वागत भाषण व विश्वविद्यालय की वार्षिक रिपोर्ट की प्रस्तुति से हुई। दीक्षांत समारोह की अध्यक्षता कर रहे विश्वविद्यालय के कुलाधिपति ई़ पंकज अग्रवाल ने समस्त विद्यार्थियों व विश्वविद्यालय परिवार को बधाई देते हुए कहा कि प्रथम दीक्षांत समारोह विश्वविद्यालय के लिए गौरवपूर्ण प्रयोजन है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय का उद्देश्य है कि समाज को ऐसे रत्नों से नवाजें जो समाज में एक नई उर्जा का संचार करे और सकारात्मक परिवर्तन की नींव रखे।

दीक्षांत समारोह में प्रो़ वी़एऩ राजशेखरन पिल्लई ने विश्वविद्यालय परिवार को पहले दीक्षांत समारोह के आयोजन पर बधाई दी। उन्होंने श्री रामस्वरूप अग्रवाल को शिक्षा और समाज सेवा के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए श्रद्घांजलि दी। उन्होंने कहा कि शिक्षा हर पहलू में जीवन की गुणवत्ता को बढ़ाने के लिए आवश्यक है। एसआरएमयू अंतरराष्ट्रीय मानकों का ज्ञान प्रदान करते हुए उच्च शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रहा है।

ड़ सुधीर मिश्रा, महानिदेशक (ब्रह्मोस), डीआरडीओ और सीईओ और प्रबंध निदेशक (ब्रह्मोस एयरोस्पेस) को मिसाइल प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में उत्कृष्ट कायोंर् के लिए डाक्टरेट आफ साइंस की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया। लोक कला के क्षेत्र में योगदान के लिए पद्म श्री प्रह्लाद सिंह टिपानिया को डाक्टरेट आफ लिटरेचर की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में सौरभ अग्रवाल, विदुषी पांडे और कृष्णम रस्तोगी को कुलाधिपति पदक मेडल से सम्मानित किया गया। वहीं प्रीति वलेचा, नमृता वर्मा और समरीन खान को प्रतिकुलाधिपति मेडल से सम्मानित किया गया। समारोह का समापन कुलसचिव प्रो़ युक़े़ सिंह के धन्यवाद भाषण, राष्ट्रगान व वृक्षारोपण के साथ हुआ।

संबंधित खबरें