DA Image
23 नवंबर, 2020|3:25|IST

अगली स्टोरी

ट्रिपल मर्डर: हिस्ट्रीशीटर अहम, तलाश में एसओजी लगाई

default image

बांदा, वरिष्ठ संवाददाता

ट्रिपल मर्डर में हिस्ट्रीशीटर अहम है। उसकी तलाश में एसओजी को लगाया गया है। वहीं, पांच अन्य फरार आरोपितों की तलाश के लिए दो अलग-अलग टीमें गठित हुई हैं। दोनों टीम में एक-एक एसआई और चार-चार तेज तर्रार सिपाही शामिल किए गए हैं। अब नौ आरोपितों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।

चमरौडी के परशुराम तालाब निवासी अभिजीत प्रयागराज में कांस्टेबल था। घर के बाहर जूठन फेंकने को लेकर हुए विवाद में शुक्रवार कांस्टेबल, उसकी मां रमावती और बहन निशा की नृंशस हत्या कर दी गई थी। नामजद 15 आरोपितों ने साबड़, चाकू, हथौड़ा, लाठी-डंडा और सरिया से हमला किया था। सीतापुर में अंडर ट्रेनिंग पीएसी जवान कांस्टेबल के बड़े भाई सौरभ ने हत्या की एफआईआर दर्ज कराई थी। मामले में नामजद नौ आरोपितों को पुलिस ने शनिवार शाम तक गिरफ्तार कर लिया था। उनके कब्जे से चाकू, सरिया, लाठी-डंडा सहित आलाकत्ल भी बरामद कर लिया है। मामले का मुख्य अभियुक्त हिस्ट्रीशीटर देवराज का साले सोमचंद्र सहित छह आरोपित फरार हैं। एएसपी महेंद्र कुमार सिंह चौहान ने बताया कि हिस्ट्रीशीटर की गिरफ्तारी के लिए एसओजी प्रभारी के नेतृत्व में टीम गठित की गई है। वहीं, अन्य पांच आरोपितों को पकड़ने के लिए पुलिस की दो टीमें लगी हैं। दोनों टीम में एक-एक दरोगा और चार-चार सिपाही शामिल हैं। सभी को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। एएसपी के अनुसार, आरोपितों की धरपकड़ के लिए गठित टीमें दबिशें दे रही हैं। वहीं, फरार आरोपितों और उनके करीबियों के नंबर भी सर्विलांस पर लगाए गए हैं। सूत्रों के मुताबिक, हिस्ट्रीशीटर से जुड़े आठ करीबियों को पुलिस ने हिरासत में लिया है।

मृतक कांस्टेबल के भाई पीएसी जवान सौरभ ने बताया कि उसकी भी जान को खतरा है। इसकी भनक शनिवार शाम मृतक भाई, मां और बहन के अंतिम संस्कार के दौरान लग गई थी। जब तक हिस्ट्रीशीटर नहीं पकड़ा जाता है। जान को खतरा बना रहेगा। हिस्ट्रीशीटर को स्थानीय पुलिस ने अपना मुखबिर बना रखा था। उसी के दबाव में भाई के तहरीर देने बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की और परिवार के तीन सदस्यों की हत्या कर दी गई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Triple Murder Historyheater important SOG in search