ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश बांदासुदामा चरित्र और परीक्षित मोक्ष से श्रद्धालु भावविभोर

सुदामा चरित्र और परीक्षित मोक्ष से श्रद्धालु भावविभोर

तिंदवारी। संवाददाता तिंदवारी ब्लाक के ग्राम छापर और जौहरपुर के मध्य स्थित श्रीहरिहर धाम...

सुदामा चरित्र और परीक्षित मोक्ष से श्रद्धालु भावविभोर
हिन्दुस्तान टीम,बांदाWed, 29 May 2024 06:55 PM
ऐप पर पढ़ें

तिंदवारी। संवाददाता

तिंदवारी ब्लाक के ग्राम छापर और जौहरपुर के मध्य स्थित श्रीहरिहर धाम में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा के सातवें दिन कथा व्यास आचार्य गोपाल मिश्र ने सुदामा चरित्र और परीक्षित मोक्ष आदि प्रसंगों का वर्णन कर श्रोताओं को भावविभोर कर किया।

बताया कि सुदामा जितेंद्रिय एवं भगवान कृष्ण के परम मित्र थे। भिक्षा मांगकर अपने परिवार का पालन पोषण करते । गरीबी के बावजूद हमेशा भगवान के ध्यान में मग्न रहते। पत्नी सुशीला सुदामा से बार बार आग्रह करती कि आपके मित्र तो द्वारकाधीश हैं। उनसे जाकर मिलो, शायद वह हमारी मदद कर दें। सुदामा पत्नी के कहने पर द्वारका पहुंचते हैं और जब द्वारपाल भगवान कृष्ण को बताते हैं कि सुदामा नाम का ब्राम्हण आया है। कृष्ण यह सुनकर नंगे पैर दौङकर आते हैं। अपने मित्र को गले से लगा लेते हैं। उनकी दीन दशा देखकर कृष्ण के आंखों से अश्रुओं की धारा प्रवाहित होने लगती है। सिंघासन पर बैठाकर भगवान कृष्ण सुदामा के चरण धोते हैं। सभी पटरानियां सुदामा से आशीर्वाद लेती हैं। सुदामा विदा लेकर अपने स्थान लौटते हैं तो भगवान कृष्ण की कृपा से अपने यहां महल बना पाते हैं। लेकिन सुदामा अपनी फूंस की बनी कुटिया में रहकर भगवान का सुमिरन करते हैं। अगले प्रसंग में शुकदेव ने राजा परीक्षित को सात दिन तक श्रीमद्भागवत कथा सुनाई जिससे उनके मन से मृत्यु का भय निकल गया। तक्षक नाग आता है और राजा परीक्षित को डस लेता है। राजा परीक्षित कथा श्रवण करने के कारण भगवान के परमधाम को पहुंचते है। इसी के साथ कथा का विराम हो गया। आश्रम के महन्त नागा हरिहर भारती महाराज ने बताया कि गुरुवार को यज्ञ भंडारा व विदाई कार्यक्रम होगा। इस अवसर परसत्यानंद भारती, श्रीचंद्र भारती, कैलाश भारती,मौनी बाबा, खुशीराम पार्षद दिल्ली, किसान संघ अध्यक्ष अरुण कुमार सिंह पटेल, सिघौली प्रधान अरुण कुमार शुक्ला, छापर प्रधान जौहरिया प्रजापति, महानारायन शुक्ला, मलखान सिंह, सुखवीर सिंह आदि मौजूद रहे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।