DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हार्डअटैक से सिपाही की मौत

हार्डअटैक से सिपाही की मौत

पुलिस लाइंस स्थित आवास में मंगलवार की रात सिपाही को दिल का दौरा पड़ गया। उसकी मौत हो गई। मौत की खबर मिलते ही घरवालों में कोहराम मच गया। रोते बिलखते घरवाले अस्पताल पहुंच गए। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया। पुलिस उपमहानिरीक्षक समेत अन्य अधिकारियों ने गार्ड आफ आनर के बाद के शव परिजनों को सौंप दिया। पुलिस वाहन से शव पैतृक गांव ले जाया गया।

हमीरपुर जिले के छेड़ी गांव निवासी ओमप्रकाश (45) पुत्र लक्ष्मी प्रसाद चित्रकूट जिले के भरतकूप थाने में तैनात था। वह पांच साल से डीआईजी र्केप कार्यालय में संबद्घ था। ओमप्रकाश अपनी पत्नी और बच्चों के साथ पुलिस लाइंस स्थित सरकारी आवास में रहता था। मंगलवार को रात करीब एक बजे ओमप्रकाश के सीने में तेज दर्द शुरू हो गया। परिजन आसपास रहने वाले पड़ोसी सिपाहियों के साथ उसे जिला अस्पताल लेकर आए। सूचना मिलने पर जिला अस्पताल के हृदय विशेषज्ञ डाक़ेएल पांडेय भी आ गए। प्राथमिक उपचार के बाद सिपाही की हालत गंभीर बताकर उन्होंने कानपुर रेफर कर दिया। परिजन उसे कानपुर लेकर जा रहे थे तभी रास्ते में उसकी मौत हो गई। मौत की खबर मिलते ही गांव से परिजन भी आ गए। पोस्टमार्टम हाउस में डीआईजी मनोज तिवारी ने परिजनों को सांत्वना देकर ढांढस बंधाया। पुलिस लाइंस में डीआईजी समेत अन्य पुलिस अधिकारियों ने मृतक सिपाही को गार्ड आफ आनर दिया। परिजन पुलिस वाहन से शव लेकर पैतृक गांव चले गए। मृतक अपने पीछे पत्नी सुधा समेत दो पुत्रियां और एक पुत्र छोड़ गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Sepoy's death from HardAtack