DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओवरलोड वाहनों के विरोध में ग्रामीणों ने लगाया जाम

ओवरलोड वाहनों के विरोध में ग्रामीणों ने लगाया जाम

गांव लौमर व सादीपुर के बीच एक दिन पहले तेज रफ्तार ट्रैक्टर से कुचल कर किशोर की मौत के बाद भड़के ग्रामीणों ने मंगलवार रात जाम लगाकर प्रदर्शन किया। ग्रामीणों का कहना है कि यहां अक्सर हादसों की संभावना बनी रहती है। सड़क ध्वस्त हो गई। तीन दिन पहले ट्रक ने बिजली खंभा तोड़ दिया जिससे दोनों अंधेरे में है। मौके पर पहुंचे एसडीएम व सीओ ने कार्रवाई का भरोसा देकर मामला शांत कराया।

मंगलवार रात गांव सादीपुर व लौमर के ग्रामीणों ने गांव के मुख्य मार्ग में वाहनों की आवाजाही रोक दी। ये ग्रामीण एक दिन पहले किशोर मोहम्मद फाजिल की बालू लदे ट्रैक्टर से कुचलकर हुई मौत से नाराज थे। ग्राम प्रधान इजहार आदि ने बताया कि किशोर की मौत से तीन दिन पहले बालू लदे ट्रक ने गांव में एक बिजली खंभा तोड़ दिया। इससे उनका पूरा गांव अंधेरे में हो गया। यहां बड़ी संख्या में लोग रोजे से है। आरोप है कि ओवरलोड बालू लदे ट्रकों की आवाजाही से लौमर-सादीपुर संपर्क मार्ग पूरी तरह ध्वस्त हो गया है। पूरे दिन वाहनों की आवाजाही ठप्प हो गई। रात को यहां सीओ राजीव प्रताप सिंह पहंुचे। उन्होंने सादीमदनपुर के ठेकेदार को बुलाकर बिजली का खंभा सही कराने तथा उखड़ी सड़क के गढढे भरवाने के अलावा मृतक किशोर का आर्थिक मदद देने को कहा। पीड़ित परिवार को मदद मिली और गांव के आसपास धीमी रफ्तार से वाहन चलाने का भरोसा मिला तो ग्रामीण मान गए। सीओ ने बताया कि टैक्टर ललौली फतेहपुर का है। चालक कामिल अली पुलिस की हिरासत में है।

बालू डंप करने को फर्राटा भरते वाहन

गांव सादीपुर के पास बालू डंप का लाइसेंस एक व्यक्ति को मिला है। जबकि यहां दो तीन जगह बालू डंप की जा रही है। ज्यादा से ज्यादा बालू डंप करने की होड़ में यहां रात दिन बालू लदे वाहनों की धमाचौकड़ी होती है।

जिले में अब तक बालू डंप का लाइसेंस सिर्फ 19 लोगों को मिला है लेकिन रोजाना एक दो आवेदन आ रहे है। अभी तक 50 लोगों ने आवेदन किया है। सादीपुर में एक व्यक्ति को लाइसेंस मिला तो उसने बालू डंप करनी शुरू की जबकि दूसरे ने आवेदन करने के साथ ही बालू डंप करनी शुरू कर दी है। सूत्र बताते है कि यहां एक जगह घर के अंदर बड़े हाते में एक ग्रामीण ने बालू डंप कर रखी है। यहां इन खनन कारोबारियों का खौफ इस कदर है कि कोई मंुह नहीं खोलता है। खनिज अधिकारी ने कहा कि जहां भी अवैध बालू डंप मिलेगी उसे सीज किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Resistance of overloaded vehicles by the villagers