DA Image
10 जुलाई, 2020|5:03|IST

अगली स्टोरी

प्रवासी मजदूर ने परिवार सहित भूख हड़ताल पर बैठा

default image

चार दिन पहले नोएडा से लौटे नहरी निवासी श्रमिक भोजन की मांग को लेकर गांव के स्कूल के क्वारंटीन सेंटर में भूख हड़ताल पर बैठ गया। इस गांव में जिम्मेदारों ने कहा कि स्कूल में सिर्फ ठहरने का प्रबंध है। भोजन आदि का प्रबंध खुद करना होगा।

नरैनी ब्लाक के गांव बंजारा निवासी वृंदावन अपनी पत्नी व तीन बच्चों के साथ ग्रेटर नोएडा से 7 मई को वापस लौटा। वह एक मई को वहां से पैदल ही गांव की ओर चल पड़े। उसकी सूचना पर गांव के जूनियर स्कूल में उसे क्वारंटीन कर दिया गया। उसके घर में बुजुर्ग मां है। वह भूख से परेशान होने लगा तो करतल पुलिस से गुहार लगाई। सामाजिक कार्यकर्ता राजाभइया ने उसे राशन दिया। राजाभइया ने कहा कि गरीब को सरकारी मदद मिलनी चाहिए। प्रशासन उसकी सुनवाई नहीं कर रहा है इसलिए क्वारंटीन केंद्र में ही वह भूख हड़ताल पर परिवार समेत बैठ गया है। उसने केंद्र में रंगोली बनाकर अपनी भूख हड़ताल का ऐलान किया। उसकी मांग है कि उसे राशन दिया जाए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Migrant workers sit on hunger strike with family