ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश बांदाबांदा में तमंचे से हर्ष फायरिंग, गोली लगने से चली गई मासूम की जान

बांदा में तमंचे से हर्ष फायरिंग, गोली लगने से चली गई मासूम की जान

बांदा। थाने से महज 100 मीटर की दूरी पर तिलक समारोह में नशेबाजों ने तमंचे से जमकर हर्ष फायरिंग की। एक गोली छह साल के मासूम की गर्दन में लग गई। खून से...

बांदा में तमंचे से हर्ष फायरिंग, गोली लगने से चली गई मासूम की जान
हिन्दुस्तान टीम,बांदाSun, 11 Feb 2024 10:50 AM
ऐप पर पढ़ें

बांदा। थाने से महज 100 मीटर की दूरी पर तिलक समारोह में नशेबाजों ने तमंचे से जमकर हर्ष फायरिंग की। एक गोली छह साल के मासूम की गर्दन में लग गई। खून से लथपथ मासूम को आननफानन मेडिकल कॉलेज ले जाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने कानपुर रेफर कर दिया। कानपुर पहुंचने से पहले मासूम की रास्ते में मौत हो गई।

मटौंध थाने से महज 100 कदम की दूरी पर रहने वाले सुरेंद्र सिंह के बेटे लोकेंद्र सिंह का तिलक समारोह था। तिलक चढ़ने के बाद छत पर खाना हो रहा था। रात करीब 11 बजे क्षेत्र के धर्मेंद्र शुक्ला का छह वर्षीय बेटा शंभू भी खाना खाने के लिए पहुंचा था। खाने के दौरान छत पर कुछ युवक नशे में धुत होकर डीजे पर डांस के साथ तमंचे से ताबड़तोड़ हर्ष फायरिंग कर रहे थे। हर्ष फायरिंग के दौरान एक गोली छत पर खड़े छह वर्षीय शंभू के गले में जा लगी। इससे वह छत पर ही गिर पड़ा। समारोह में भगदड़ मच गई। सुरेंद्र सिंह का परिवार आननफानन खून से लथपथ शंभू को मेडिकल कॉलेज लेकर पहुंचा। प्राथमिक इलाज के बाद भी हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने कानपुर रेफर कर दिया। रात करीब डेढ़ बजे बच्चे की रास्ते में मौत हो गई।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें