ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश बांदाबांदा में बहू को पीटने के बाद ममेरे ससुर ने आग लगाकर दी जान

बांदा में बहू को पीटने के बाद ममेरे ससुर ने आग लगाकर दी जान

बहू को पीटने के बाद ममेरे ससुर ने खुद को किराना की दुकान के अंदर

बांदा में बहू को पीटने के बाद ममेरे ससुर ने आग लगाकर दी जान
हिन्दुस्तान टीम,बांदाSat, 10 Feb 2024 11:10 PM
ऐप पर पढ़ें

बहू को पीटने के बाद ममेरे ससुर ने खुद को किराना की दुकान के अंदर बंदकर आग लगा दी। दुकान के अंदर से धुआं निकलता देख लोगों को जानकारी हुई। सूचना पर पहुंची दमकल काफी मशक्कत के बाद आग को काबू पर पाई। गंभीर रूप से झुलसे युवक को सीएचसी ले गई, जहां डॉक्टरों ने देखते ही मृत घोषित कर दिया।

बबेरू कोतवाली क्षेत्र के कायल गांव का रोहित बचपन से

बबेरू कोतवाली क्षेत्र के गांव भदेहदू स्थित ननिहाल में रहता है। डेढ़ साल पहले उसकी शादी सपना से हुई। रोहित का मामा 38 वर्षीय किशन घर के बाहर किराना की दुकान किए था। शुक्रवार दोपहर किशन की पत्नी पुष्पा अपने डेढ़ साल की बेटी को लेकर पड़ोस में रहनेवाले चचिया ससुर राजबहादुर के घर मांगलिक कार्यक्रम और रोहित बाजार गया था। इधर, किशन शराब पीकर घर पहुंचा। किसी बात को लेकर किशन और रोहित की पत्नी सीमा (20) में कहासुनी हुई। कहासुनी के दौरान किशन ने सीमा को बेरहमी से पीट दिया। हल्ला-गुहार मचने पर आसपास के लोग जुटे। आननफानन गंभीर हालत में सीमा को सीएचसी बबेरू ले गए। वहां उसे भर्ती कराया। सूचना पर रोहित भी सीएचसी पहुंच गया। इसबीच किशन ने खुद को किराना की दुकान के अंदर बंदकर आग लगा ली। दुकान के अंदर से धुंआ और आग की लपटें देख आसपास के लोगों ने पुलिस और दमकल को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस और दमकल काफी मशक्कत के बाद आग को काबू कर गंभीर रूप से झुलसे किशन को बाहर निकाल पाई। किशन को तत्काल सीएचसी बबेरू लेकर पहुंची, जहां डॉक्टरों ने देखते ही मृत घोषित कर दिया।

13 को चाचा की बेटी की शादी

पिता चुनबाद चार भाई थे। सभी का घर आसपास है। भाई राजबहादुर की बेटी की 13 फरवरी को शादी तय है। शनिवार को राजबहादुर के घर मांगलिक कार्यक्रम में ही किशन की पत्नी पुष्पा गई थी।

चार भाइयों में मझला था किशन

स्व. चुनबाद के चार बेटों में किशन मझला था। तीन बेटे पंजाब में रहते हैं। सभी को चाचा की बेटी की शादी में आना है। मांगलिक कार्यक्रम से पहले भाई की मौत की खबर मिली। पूर्व प्रधान राममूर्त ने बताया कि किशन के भाई फतेहपुर तक पहुंच चुके हैं।

पहले पंजाब में रहता था

पूर्व प्रधान ने बताया कि किशन पहले पंजाब में रहता था। वहां शादी भी की थी। पहली पत्नी छोड़कर चली गई थी। करीब पांच साल पहले गांव आया था। यहां आकर दूसरी शादी की थी। चारों बेटे पंजाब में रहने की वजह से चुनबाद नाती को गांव ले आए थे। रोहित की पढ़ाई-लिखाई और शादी की।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें