ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश बलरामपुरनगर में नहीं है पार्किंग की व्यवस्था, अतिक्रमणकारियों का बोलबाला

नगर में नहीं है पार्किंग की व्यवस्था, अतिक्रमणकारियों का बोलबाला

समस्या गैंड़ास बुजुर्ग, संवाददाता। शहर में वाहनों की संख्या में भी आशातीत

नगर में नहीं है पार्किंग की व्यवस्था, अतिक्रमणकारियों का बोलबाला
हिन्दुस्तान टीम,बलरामपुरMon, 27 May 2024 07:25 PM
ऐप पर पढ़ें

समस्या

गैंड़ास बुजुर्ग, संवाददाता।

शहर में वाहनों की संख्या में भी आशातीत बढ़ोतरी हो रही है। इसके साथ ही पार्किंग की व्यवस्था न होने से रोजाना जाम की समस्या उत्पन्न हो जाती है। इसके साथ ही वाहनों के लिए पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। वहीं शहर में ई-रिक्शा की भरमार हो गई है। लेकिन आज तक इनका कोई निश्चित ठिकाना निर्धारित नहीं हो पाया है। इसके साथ ही बाजारों में आम लोगों के निजी वाहन भी यत्र-तत्र खड़े मिल जाते हैं।

नगर परिषद क्षेत्र अंतर्गत पार्किंग की समस्या लगातार विकराल रूप धारण करती जा रही है। इसके कारण मुख्य बाजार की स्थिति दिन-प्रतिदिन दयनीय होती जा रही है। सुबह से ही सड़कों पर जाम लगना आम बात हो गई है। इसके कारण लोगों को खासा परेशानी उठानी पड़ रही है। लोग समय से न तो ऑफिस पहुंच पा रहे हैं और न ही बच्चे स्कूल। यहां तक एंबुलेंस भी मरीजों को सही समय पर अस्पताल नहीं पहुंचा पाती। जिस कारण मरीजों को समय पर इलाज न मिल पाने के कारण उनकी हालत गंभीर हो जाती है। जाम के कारण लोगों को दयनीय स्थिति का सामना करना पड़ रहा है। एक तरफ शहर का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है। वहीं गांव के लोग भी लोग पलायन कर शहर की ओर रुख कर रहे हैं। जिस कारण लोगों के सामने रोजी रोटी का संकट भी छाया रहता है। बढ़ती जनसंख्या के साथ वाहनों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी का दौर जारी है। शहर में पार्किंग के लिए कोई भी जगह चिन्हित न होने से वाहन चालक मनमानी तरीके से वाहनों को पार्किंग कर देते हैं, जिस कारण जाम की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। वहीं लगातार बढ़ रहे अतिक्रमण के चलते सड़के सिकुड़ती जा रही हैं। जिस कारण आए दिन लोग दुर्घटना के शिकार होते रहते हैं। क्षेत्रवासियों ने नगर व जिला प्रशासन से अवैध अतिक्रमण को हटवाने के साथ नगर में पार्किंग व्यवस्था कराने की आवाज उठाई है। साथ जाम की समस्या को देखते हुए हर चौराहे व नुक्कड़ पर यातायात कर्मियों की समुचित तैनाती कराने की भी मांग की है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।