ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश बलरामपुरप्रत्याशियों के जनसभा एवं रैली की वीडियो से कराई जा रही निगरानी

प्रत्याशियों के जनसभा एवं रैली की वीडियो से कराई जा रही निगरानी

लोकसभा चुनाव वाहनों की सघन जांच करते हुए चुनाव को प्रभावित करने वाली सामग्रियों...

प्रत्याशियों के जनसभा एवं रैली की वीडियो से कराई जा रही निगरानी
हिन्दुस्तान टीम,बलरामपुरTue, 14 May 2024 06:10 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव

वाहनों की सघन जांच करते हुए चुनाव को प्रभावित करने वाली सामग्रियों पर भी लगाया जा रहा रोक

अवैध शराब व नकदी की शिकायत मिलने पर 100 मिनट के अन्दर कार्रवाई करती है उड़नदस्ता टीम

बलरामपुर, संवाददाता।

लोकसभा चुनाव में अवैध शराब व धनबल का प्रयोग न होने पाए इसके लिए प्रशासन ने 36 उड़नदस्ता, 42 स्थाई निगरानी टीम व प्रवर्तन एजेंसी को सक्रिय किया है। प्रत्याशियों के जनसभा एवं रैली आदि की वीडियो से निगरानी की जा रही है। निगरानी टीम सभी सीमाओं के चेक प्वाइंट पर नजर रख रही है। वाहनों की सघन जांच करते हुए चुनाव को प्रभावित करने वाली सामग्रियों पर भी रोक लगाया जा रहा है। उड़नदस्ता टीम अवैध शराब व नकदी की शिकायत मिलने पर 100 मिनट के अन्दर प्रभावी कार्रवाई कर रही है।

जिला निर्वाचन अधिकारी अरविंद सिंह ने बताया कि लोकसभा चुनाव को प्रलोभनमुक्त सम्पन्न कराने के लिए उड़नदस्ता टीम आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई कर रही है। जनपद के सभी सीमाओं के चेक प्वाइंट पर 36 स्थाई निगरानी टीम 24 घंटे नजर रख रही है। टीम वाहनों की सघन जांच करते हुए चुनाव को प्रभावित करने वाले सामग्रियों पर रोक लगाने में जुटी है। प्रत्याशियों के जनसभा एवं रैली की वीडियो निगरानी कराई जा रही है। आदर्श आचार संहिता के प्रभावी होने के बाद आबकारी विभाग अभियान चलाकर धरपकड़ करते हुए अब तक 2571 लीटर अवैध शराब जब्त किया है। डीएम ने वन व पुलिस विभाग एवं अभिसूचना के सभी इकाइयों को निर्देशित किया है कि भारत-नेपाल अन्तर्राष्ट्रीय सीमा पर कड़ी चौकसी रखते हुए नार्कोटिक एवं ड्रग आदि का खरीद व बिक्री न हो यह सुनिश्चित करें। उन्होंने बताया कि लोकसभा चुनाव में धन-बल, अवैध मदिरा आदि का प्रयोग करके चुनाव की गरिमा को प्रभावित करने वालों के खिलाफ विधिक कार्रवाई की जाएगी।

कार्मिकों व सुरक्षा बलों के स्वास्थ्य को लेकर तैनात होगी मेडिकल टीम

मतदान केन्द्रों पर तैनात कार्मिकों व सुरक्षा बलों के स्वास्थ्य का ख्याल रखने के लिए मेडिकल टीम की तैनाती की जाएगी। तीन या तीन से अधिक बूथों वाले मतदान केन्द्रों पर कम्युनिटी ऑफीसर, दो या तीन स्थल वाले मतदेय केन्द्र पर एएनएम व एक बूथ वाले मतदान केन्द्र पर आशा की तैनाती होगी। मतदान केन्द्रों पर तैनात कार्मिकों, सुरक्षा बलों, माइक्रोआब्जर्बर, बीएलओ पर आकस्मिकता की स्थिति में तुरंत चिकित्सा सुविधा मिल सके, इसके लिए केन्द्रों को निकट के प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों से जोड़ा गया है। वहां पर तैनात चिकित्साधिकारी का मोबाइल नम्बर सभी मतदान कार्मिकों के पास उपलब्ध रहेगा ताकि इमरजेंसी की स्थिति में उनसे सम्पर्क कर चिकित्सा सेवा ली जा सके।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।