DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बलरामपुर › डीएम ने तीन अनुपस्थित अधिकारियों से स्पष्टीकरण तलब किया
बलरामपुर

डीएम ने तीन अनुपस्थित अधिकारियों से स्पष्टीकरण तलब किया

हिन्दुस्तान टीम,बलरामपुरPublished By: Newswrap
Fri, 23 Jul 2021 09:00 PM
डीएम ने तीन अनुपस्थित अधिकारियों से स्पष्टीकरण तलब किया

बैठक

बलरामपुर। संवाददाता

कलेक्ट्रेट सभागार में शुक्रवार को डीएम श्रुति ने कर करेत्तर, राजस्व न्यायालयों में लंबित मुकदमों, वादों के निस्तारण, देय वसूली व ई-गवर्नंेस की समीक्षा की। बैठक में अनुपस्थित होने पर आईजी स्टाम्प, खनन अधिकारी, प्रभागीय वनाधिकारी व चकबंदी अधिकारी से स्पष्टीकरण तलब किया गया है।

समीक्षा बैठक के दौरान डीएम ने संबंधित विभागों के अधिकारियों को प्रवर्तन काम में तेजी लाने का निर्देश दिया। कहा कि नगर निकायों में लंबित आडिट आपत्तियों का शत-प्रतिशत निस्तारण कराया जाए। राजस्व न्यायालयों में लंबित मुकदमों की समीक्षा के दौरान डीएम ने सभी एसडीएम व तहसीलदार को निर्देशित किया कि पांच वर्ष से अधिक लंबित मुकदमों का प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण करें। तहसील के दस बड़े बकायदारों को चिन्हित कर राजस्व वसूली में तेजी लाए। जाति, आय व निवास प्रमाण पत्र के आवेदन लंबित होने पर डीएम ने नाराजगी जताई। कहा कि समय सीमा के भीतर प्रमाण पत्र जारी किए जाए। सभी एसडीएम को वरासत एवं दाखिल खारिज कार्य प्राथमिकता के साथ कराने का निर्देश दिया। कहा कि कोई भी वरासत का प्रकरण लंबित न रहे। इस अवसर पर एडीएम अरुण कुमार शुक्ल, एसडीएम डा. नागेन्द्र नाथ यादव, अरुण कुमार गौड़, विनोद कुमार सिंह व तहसीलदार शेख आलमगीर, आबकारी अधिकारी राजेश त्रिपाठी व नायब तहसीलदार अंकुर यादव सहित अन्य लोग मौजूद थे।

संबंधित खबरें