ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश बलरामपुरबकरीद को लेकर बाजारों में बढ़ी बकरों की मांग

बकरीद को लेकर बाजारों में बढ़ी बकरों की मांग

उतरौला, संवाददाता। ईद-उल-अजहा बकरीद पर्व को लेकर मस्जिद व ईदगाहों पर तैयारियां जोरों...

बकरीद को लेकर बाजारों में बढ़ी बकरों की मांग
हिन्दुस्तान टीम,बलरामपुरSat, 15 Jun 2024 06:00 PM
ऐप पर पढ़ें

उतरौला, संवाददाता।

ईद-उल-अजहा बकरीद पर्व को लेकर मस्जिद व ईदगाहों पर तैयारियां जोरों पर हैं। मस्जिद, दरगाह व ईदगाहों के आस पास साफ-सफाई कराई जा रही है। वहीं दूसरी ओर बाजार में बकरों की खरीदारी तेज हो गई है। लोग बकरों की नस्ल और उसकी खूबसूरती के लिए मुहंमांगा दाम देने को तैयार हैं।

ईद-उल-अजहा बकरीद पर्व को लेकर मुस्लिम समाज में काफी उत्साह दिखाई दे रहा है। पर्व के मद्देनजर मस्जिद, दरगाह व ईदगाहों के आस पास साफ-सफाई कराकर चूने का छिड़काव कराया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर कुर्बानी को लेकर बाजार में बकरों की खरीद बढ़ गई है। इस बकरीद पर जमुनापरी, तोतापरी, राजस्थानी व बाबरी नस्ल के बकरों की खूब डिमांड हो रही है। कुर्बानी के लिए जिले में प्रमुख चौक-चौराहों व साप्ताहिक बाजारों में बकरों की मंडी सज रही है। नगर के सराय फाटक, डॉ. मजीद मोड, घास मंडी, अलीजानपुरवा, अंबेडकर तिराहा, नई बस्ती, गर्ल्स कॉलेज चौराहे पर सुबह-शाम सैकड़ों पशुपालक बकरों को लेकर पहुंच जाते हैं। इसके बाद बकरों की नस्ल व साइज के हिसाब से बोली लगती है। लोग बताते हैं कि एक-एक बकरे की बोली पांच से 70 हजार तक लग रही है। कुर्बानी करने वाले लोग बकरों की नस्ल और उसकी खूबसूरती के लिए मुहंमांगा दाम देने को तैयार दिखते हैं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
Advertisement