DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  बलरामपुर  ›  अंतिम दिन हार-जीत को लेकर सजी रही चौपालें
बलरामपुर

अंतिम दिन हार-जीत को लेकर सजी रही चौपालें

हिन्दुस्तान टीम,बलरामपुरPublished By: Newswrap
Sat, 01 May 2021 09:10 PM
अंतिम दिन हार-जीत को लेकर सजी रही चौपालें

उतरौला। हिन्दुस्तान संवाद

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव खत्म होने के बाद अब जीत-हार की चर्चाएं शुरू हो गई हैं। गांव के चौपालों, गली, मोहल्लों व चौराहों पर चाय, पान की दुकानों के साथ अन्य जगहों पर आंकड़े बाजी शुरू कर दी गई है। अपने समर्थकों एवं कार्यकर्ताओं के ऊपर जमकर धनवर्षा करने वाले प्रत्याशियों की धड़कनें आने वाले परिणामों को लेकर तेज हो गई है।

क्षेत्र के सभी चौराहा, चाय, पान की दुकानों, मोहल्ले के नुक्कड़ों के साथ ग्रामीण इलाकों में अपने-अपने प्रत्याशियों को जिताने पर समर्थकों में बहस छिड़ गई है। हार-जीत के कयास लगाए जा रहे हैं। समर्थकों में कहासुनी के बाद तू-तू, मैं-मै भी जारी है। हर तरफ आंकड़े बाजी व समीक्षा का दौर शुरू हो गया है। अब बार-बार लोग एक ही सवाल कर रहे हैं कि इस गांव में किसके सिर पर जीत का सेहरा बंधेगा। जहां पर चुनाव में कम वोटों से जीत-हार का अनुमान है। वहां पर सट्टेबाजी भी लगनी शुरू हो गई है। क्षेत्र में सभी ग्राम प्रधान, बीडीसी एवं जिला पंचायत सदस्यों का चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी व उनके समर्थक जीत-हार के गुणा-भाग में लग गए हैं। हालांकि दो मई को परिणाम कुछ भी आए, लेकिन प्रधानी का चुनाव लड़ने वाले कुछ दिनों में प्रधान जी जरूर कहलाएंगे। वहीं अब तक चुनाव में मस्त गांव के मजदूर तबके के लोगों ने अब अपने कार्यों की तरफ रूख कर लिया है। समर्थक अपने-अपने तरीके से प्रत्याशियों को वोट का आकलन दे रहे हैं। कोई उनके वादे व दावतों का जमकर तारीफ कर रहा है, तो वहीं अब कोरोना की दूसरी लहर का तांडव देख अधिकांश गांवों में सभी प्रत्याशी एक जगह बैठकर भाईचारे की बात करते नजर आ रहे हैं। चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी व उनके समर्थकों की निगाहें मतगणना परिणामों पर टिकी हुई हैं।

संबंधित खबरें