DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  बलरामपुर  ›  बलरामपुर:मूसलाधार हुई बारिश, निचले स्थानों पर हुआ जलभराव

बलरामपुरबलरामपुर:मूसलाधार हुई बारिश, निचले स्थानों पर हुआ जलभराव

हिन्दुस्तान टीम,बलरामपुरPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 05:50 PM
बलरामपुर:मूसलाधार हुई बारिश, निचले स्थानों पर हुआ जलभराव

बलरामपुर। संवाददाता

जिले में मंगलवार सुबह आठ बजे आसमान में काले बादल छा गए। थोड़ी ही देर में तेज हवाओं के साथ झमाझम बरसात शुरू हो गई। करीब तीन घंटे तक हुई मूसलाधार बारिश से निचले स्थानों पर जलभराव हो गया। हालांकि दोपहर बाद मौसम साफ हो गया। बरसात से नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को आवागमन में दिक्कतों का सामना करना पड़ा। लगातार हो रही बरसात से नदी के तटवर्ती गांव के लोगों को कटन का भय सताने लगा है।

मई माह के अंतिम सप्ताह में लगातार बारिश हुई। वर्षा से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया था। सोमवार को धूप निकलने से लोगों को थोड़ी राहत मिली थी। मंगलवार सुबह आसमान में अचानक काले बादल छा गए। सुबह आठ बजे से तेज हवाओं के साथ मूसलाधार बारिश शुरू हो गई। दिन में 11 बजे तक लगातार झमाझम बरसात होने नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों के निचले स्थानों पर जलभराव हो गया। जल निकासी की सुविधा न होने के कारण लोगों को आवागमन में दिक्कते झेलनी पड़ी।

जलभराव से हुई लोगों को परेशानी

हल्की सी बरसात में ही मुख्यालय सहित अन्य कस्बों व बाजारों के प्रमुख मार्गों व अन्य रास्तों पर जलभराव की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। नालियों व नालों की सफाई न होने से बरसात का पानी सड़कों पर व गलियों में बहता है। जिससे लोगों को आवागमन में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। मंगलवार सुबह हुई बरसात से वीर विनय चौराहा, टेढ़ी बाजार व तुलसीपार्क आदि मोहल्लों में जलभराव हो गया। लोगों को बरसात के गंदे पानी से होकर गुजरना पड़ा। नगर वासियों ने जल निकासी की व्यवस्था कराए जाने की मांग नगर पालिका प्रशासन से की है।

वर्षा से लोगों को मिली राहत

जिला कृषि अधिकारी मंजीत कुमार बताते हैं कि मई माह के अंतिम सप्ताह में हुई बरसात खेती के लिए फायदेमंद है। किसान धान के फसल की बेड़न डाल सकते हैं। ढ़ैंचा की खेती भी की जा सकती है। बताया कि राजकीय कृषि बीज भंडारों पर धान व ढैंचा के बीज उपलब्ध हैं। किसान सरकारी दुकानों से अनुदान पर बीज खरीदकर कृषि कार्य करें।

संबंधित खबरें