DA Image
13 जनवरी, 2021|1:08|IST

अगली स्टोरी

बलरामपुर: विभाग पर भारी पड़ रहा प्राइमरी स्कूल का हेडमास्टर

default image

स्थानीय शिक्षा क्षेत्र के एक प्राइमरी स्कूल में तैनात हेडमास्टर शिक्षा विभाग पर भारी पड़ रहा है। स्कूल की दो रसोईयां उस पर छेड़छाड़ का आरोप लगा चुकी हैं। सहायक अध्यापिका उस पर मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाकर डीएम को प्रार्थना पत्र दें चुकी हैं। महिला प्रधान ने प्रधानाध्यापक के एक-एक माह तक स्कूल न आने का दरख्वास्त दिया लेकिन उसका कुछ नहीं बिगड़ा। तमाम लिखा-पढ़ी के बाद बीएसए ने आरोपों की सत्यता परखने के लिए जांच टीम गठित की है। हर्रैया सतघरवा शिक्षा क्षेत्र का एक परिषदीय विद्यालय प्रधानाध्यापक की कार्यशैली को लेकर सुर्खियों में है। वहां की दो रसोईयों ने उस पर बदसलूकी का आरोप लगाया है। थाने में तहरीर देकर कहा है कि प्रधानाध्यापक ने उनके साथ छेड़छाड़ की है। रसोईयों को धमकाया कि वे लिखा-पढ़ी करेगी तो नौकरी से निकाल देगा। प्रधानाध्यापक पर यह भी आरोप है कि वह गांव में धार्मिक उन्माद भड़काने का काम करता है। सहायक अध्यापिका का कहना है कि प्रधानाध्यापक उन्हें मानसिक रूप से प्रताड़ित करते हैं। वह विद्यालय से अक्सर अनुपस्थित रहते हैं। बच्चों को भी प्रताड़ित करते हैं। अध्यापिका का कहना है कि वह उनके साथ कई बार अभद्र व्यवहार कर चुके हैं। महिला ग्राम प्रधान का कहना है कि प्रधानाध्यापक कई बच्चों को लात-घूसों से मार चुके हैं। अभिभावक की शिकायत पर बच्चों का नाम काटने की धमकी देते हैं। बीएसए रामचंद्र ने बताया कि जांच टीम गठित की गई है। आरोप सत्य साबित होने पर संबंधित के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Balrampur Headmaster of the Primary School overshadowing the Department