DA Image
Sunday, December 5, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश बलरामपुरपुरानी पेंशन बहाली को लेकर अटेवा मंच ने की बैठक

पुरानी पेंशन बहाली को लेकर अटेवा मंच ने की बैठक

हिन्दुस्तान टीम,बलरामपुरNewswrap
Tue, 26 Oct 2021 09:25 PM
पुरानी पेंशन बहाली को लेकर अटेवा मंच ने की बैठक

बलरामपुर। संवाददाता

ऑल टीचर्स एम्पलाइज वेलफेयर एसोसिएशन जिला इकाई ने कैम्प कार्यालय सिविल लाइन में मंगलवार को पुरानी पेंशन बहाली एवं परिषदीय स्कूलों के निजीकरण किए जाने के संबंध में बैठक आयोजित की। बैठक में शिक्षक कर्मचारियों ने पुरानी पेंशन बहाली पर आगामी रणनीति बनाई।

बैठक की अध्यक्षता कर रहे जिलाध्यक्ष विकासकांत पांडेय ने कहा कि पुरानी पेंशन शिक्षकों, कर्मचारी व अधिकारी का अधिकार है। इससे सरकार को बहाल करना पड़ेगा। यदि शिक्षकों को बुढ़ापे का एक मात्र सहारा पेंशन बहाल नहीं हुआ तो इसके परिणाम भी सरकार को भुगतने पड़ेंगे। जिला उपाध्यक्ष राधा मोहन पांडे ने कहा कि एक तरफ सरकार सबका साथ सबका विकास का दावा कर रही है। वहीं पर शिक्षक, कर्मचारी व अधिकारियों के बुढ़ापे का सहारा पुरानी पेंशन छीनकर उनके साथ कुठाराघात किया है। जिला सचिव अनुराग रस्तोगी ने कहा कि परिषदीय स्कूलों का निजीकरण करने की साजिश सफल हुई तो तमाम शिक्षक, कर्मचारी व अधिकारी बेरोजगार हो जाएंगे। ऐसे में अटेवा मंच पुरानी पेंशन बहाली एवं निजी करण का विरोध कर रही है। जिला कोषाध्यक्ष मोहम्मद इकबाल खान, ने कहा कि जब शिक्षक, कर्मचारी व अधिकारी को पुरानी पेंशन का लाभ नहीं मिल सकता है, तो विधायक, मंत्री व सांसद भी अपनी पेंशन त्याग दें। उन्होंने कहा कि एक चौके में दो तरह की व्यवस्था सरासर गलत है। शिक्षकों ने कहा कि यदि पुरानी पेंशन बाहल नहीं हुआ एवं स्कूलों के निजीकरण का प्रयास किया गया तो पूरे प्रदेश सहित देश में सभी शिक्षक आंदोलन करने को विवश होंगे। इस दौरान यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन जिलाध्यक्ष देव कुमार मिश्रा, फैजान अंसारी, सचिन शुक्ला, अशोक सिंह आदि ने भी पुरानी पेंशन बहाल करने की मांग करते हुए निजीकरण का विरोध किया। पुरानी पेंशन बहाली के मुद्दे पर यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन ने अटेवा को समर्थन देते हुए इस मांग को जायज करार दिया। इस दौरान तमाम परिषदीय विद्यालयों के शिक्षक मौजूद थे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें