अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अगली बारिश से पहले स्थायी समाधान का भरोसा

बाढ़ नियंत्रण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वाति सिंह मंगलवार को बाढ़ व कटान से प्रभावित क्षेत्र के ककरघट्टा ग्रामसभा के नवकागांव में अधिकारियों के साथ पहुंचीं। पीड़ित परिवारों से मिलकर उनका दर्द सुना और समस्या के स्थायी समाधान का भरोसा दिया। आश्वस्त किया कि अगले साल की बारिश से पहले हर हाल में काम पूरा कराया जाएगा। ग्रामीणों ने शिकायत की कि हर बार मंत्री-जनप्रतिनिधि ऐसा ही भरोसा देकर जाते हैं, मंत्री ने कहा कि यकीनन इस बार ऐसा नहीं होगा।
घाघरा नदी से हो रहे कटान से प्रभावित गांवों में पहुंची स्वाति सिंह से ग्रामीण गांव को बचाने की गुहार लगाते रहे। मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि वाकई यह गांव खतरे के मुहाने पर है। बाढ़ का पानी कम होने तथा बरसात खत्म हो जाने के बाद अगले साल के शुरू में ही स्थायी समाधान निकालने का भरोसा दिया। पीड़ितों ने नेताओं की उदासीनता व झूठे वायदों की ओर ध्यान दिलाते हुए कहा कि सांसद व ऊर्जा मंत्री भी आश्वासन देकर चले गए लेकिन उस दिशा में कोई पहल नहीं हुई। इस पर मंत्री ने कहा कि अगली बारिश से पहले हर हाल में स्थायी समाधान निकाला जाएगा।
स्वाति सिंह ने बाढ़  विभाग के अधिकारियों से बचाव कार्यों के बावत जानकारी मांगी। अधिशासी अभियंता ने पूरे जिले के लिए 47 करोड़ के प्रस्ताव की बात बतायी। मंत्री ने ककरघट्टा गांव के लिए अलग से हो रहे प्रयासों की जानकारी मांगी तो अधिकारी चुप्पी साध गए। उन्होंने तत्काल प्रोजेक्ट बनाकर शाासन में भेजने को कहा।
इस मौके पर एडीएम मनोज कुमार सिंघल,  एएसपी विजय पाल सिंह, बाढ़ विभाग के इंजीनियर वीरेन्द्र सिंह, अधिशासी अभियंता बीपी सिंह, सीओ बांसडीह अशोक सिंह, तहसीलदार शिवसागर दूबे, पशुधन प्रसार अधिकारी डा. प्रेमशंकर सिंह, लेखपाल राजेश कुमार, संजय कुमार आदि थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Trust the lasting solution before the next rain