DA Image
11 जुलाई, 2020|12:37|IST

अगली स्टोरी

पशु मेला की जमीन को लेकर बैरिया में सियासत गरम

पशु मेला की जमीन को लेकर बैरिया में सियासत गरम

क्षेत्र के इब्राहिमाबाद स्थित श्रीसुदिष्ट बाबा पशुमेला की जमीन को लेकर इलाके की सियासत गरमा गयी है। क्षेत्रीय विधायक सुरेन्द्र सिंह ने रविवार को बकायदा पत्रकारों से इस मामले में बातचीत की। कहा जमीन को भू-माफियाओं के चंगुल से मुक्त कराकर ही दम लेंगे। इस मामले में उन्होंने अपनी ही पार्टी के बलिया सांसद पर भी निशाना साधा।

चांदपुर स्थित अपने आवास पर विधायक ने कहा कि वर्ष 2000 तक सुदिष्ट बाबा पशु मेला की जमीन ग्राम समाज के नाम से दर्ज थी। उक्त भूमि पर बसपा व सपा सरकार के शासन काल में सम्बंधित विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों की मिलीभगत से 50 से 60 भू माफियाओं ने अपना नाम दर्ज करा लिया। हालांकि वे कभी इस जमीन पर काबिज नहीं हो सके। विधायक के अनुसार उक्त 50-60 लोगों में से कुछ ने करीब 25 बीघा जमीन एक प्राइवेट कम्पनी के डायरेक्टर विनय सिंह व एक अन्य के नाम से बेच दिया। सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि विनय सिंह दलकी गांव के रहने वाले हैं और बलिया सांसद वीरेन्द्र सिंह मस्त के सगे भांजे हैं। कहा कि उक्त जमीन पर जिला पंचायत की ओर से श्रीसुदिष्ट बाबा पशु मेला लगता है। वहां आईटीआई व अग्निशमन केन्द्र स्थापित है। जबकि उसी जमीन में राजकीय पालीटेक्निक कालेज भी प्रस्तावित था। कहा कि बैरिया विधानसभा क्षेत्र की वर्षों पुरानी ऐतिहासिक धरोहर को भू-माफियाओं से छुड़ाने के लिए ग्राम सभा से विधानसभा व डीएम से सीएम तक आवाज बुलंद करेंगे। जिसने भी इस जमीन को गलत तरीके से भू-माफियाओं के नाम से दर्ज किया है, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई कराई जाएगी। कहा कि इस मामले को लेकर जल्द ही भाजपा कार्यकर्ताओं की बैठक बुलाकर आगे की रणनीति तय की जाएगी। जरूरत हुई तो गांव-गांव जाएंगे।

गड़बड़ी हुई तो कार्रवाई करे प्रशासन : सांसद

विधायक की मीडिया से बातचीत के तत्काल बाद बलिया सांसद वीरेन्द्र सिंह मस्त ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी। कहा कि इब्राहिमाबाद पशुमेला की भूमि सम्बंधित मामले में मुझे कोई जानकारी नहीं है। यदि गलत तरीके से पशुमेला की भूमि पर किसी का नाम चढ़ाया गया है तथा अभिलेखों में हेराफेरी की गई है तो शासन-प्रशासन के अधिकारी उसकी जांच करके दोषियों पर कार्रवाई करें।

विधायक के आरोप तथ्यहीन व निराधार : विनय

बैरिया। विधायक सुरेंद्र सिंह द्वारा इब्राहिमाबाद पशु मेला की 25 बीघा जमीन खरीदने के आरोप पर सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त के भांजे दलकी निवासी विनय कुमार सिंह ने भी अपनी बात रखी। कहा कि हमने जमीन सही काश्तकारों से वाजिब मूल्य देकर खरीदा है। कहीं से कोई गड़बड़ी नहीं हुई है। विधायक के आरोप तथ्य से परे और निराधार हैं। जमीन के मालिक जमीन बेचने वाले हैं या नहीं, इसका फैसला कोई जनप्रतिनिधि नहीं बल्कि न्यायालय व राजस्व विभाग करेगा। कहा कि बहुराष्ट्रीय कंपनी की नौकरी छोड़कर 2013 से अपनी कंपनी बनाई है। यहां पर रोजगारपरक उद्योग लगाने के लिए काश्तकारों से ये जमीन खरीदी है। अब विधायक जी किस राजनैतिक गुणा-गणित से सांसद जी पर आरोप लगा रहे हैं, यह मुझे मालूम नहीं है।

विनय सिंह ने जमीन बेचने वाले किसानों को भी पत्रकारों के समक्ष प्रस्तुत किया। किसानों ने बताया कि उक्त जमीन हम लोगों की संपत्ति है ओर वाजिब मूल्य लेकर विनय सिंह को अपनी जमीन बेची है। जमीन के क्रय-विक्रय में कुछ भी गलत नहीं हुआ है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Politics hot in Bairia over cattle fair land