DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहर में धूमधाम से निकला महावीरी झंडा जुलूस

शहर में धूमधाम से निकला महावीरी झंडा जुलूस

आजादी के कोख से जन्मा ऐतिहासिक महावीरी झंडा जुलूस गुरुवार को धूमधाम से निकला। इस दौरान शहर में सुबह से देर रात तक गहमा-गहमी रही। सुरक्षा के लिये जगह-जगह फोर्स लगायी गयी थी।

दोपहर बाद से ही सभी कमेटियों के सदस्य करतब दिखाते हुए अपने-अपने निर्धारित जगह से निकले। रास्ते में अखाड़ेदारों ने खूब लाठियां भांजी। युवा और बच्चे डीजे की धुन पर थिरकते चल रहे थे। शाम साढ़े पांच बजे विशुनीपुर मस्जिद के सामने से पहला जुलूस गुजरा। इसके बाद पहले से निर्धारित क्रम के अनुसार सभी जुलूस गुजरते गए। सुरक्षा के मद्देनजर चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल की तैनाती थी। विशुनीपुर मस्जिद के पास खास ऐहतियात बरती गयी थी।

परम्परा के मुताबिक सावन महीने के पूर्णिमा के दिन निकलने वाले महावीरी झण्डा जुलूस में शहर की नौ कमेटियां शामिल हुईं। नगर कमेटी, मिड्ढी, विजयीपुर, टाउन हाल, लोहापट्टी, चमनसिंह बाग रोड, बालेश्वर घाट, सिनेमा रोड व मिड्ढी हनुमान मंदिर कमेटी । जुलूस के दौरान अखाड़ेदारों व उनके सदस्यों ने रंग-बिरंगी पगड़ी बांध रखी थी।

परम्परा के अनुसार मिड्ढी से निकला जुलूस मालगोदाम रोड पर पहुंचकर नगर कमेटी के जुलूस में शामिल हो गया। वहां से इन दोनों जुलूस का नेतृत्व नगर कमेटी ने किया और आगे बढ़ा। शाम के साढ़े पांच विशुनीपुर चौराहे पर नगर कमेटी को पीछे छोड़कर मिड्ढ़ी का जुलूस पहुंच गया शाम के 5.40 बजे विशुनीपुर से जुलूस गुजर गया। पहले जुलूस के शांतिपूर्वक संवेदनशील जगह से गुजरने के बाद पुलिस व प्रशासन ने राहत की सांस ली। एसपी देवेन्द्र नाथ अन्य पुलिस व प्रशासनिक अफसर देर रात तक जमे रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mahaviri flag procession in pomp in the city