DA Image
8 अगस्त, 2020|5:33|IST

अगली स्टोरी

डॉक्टर, फार्मासिस्ट व वार्ड ब्याय पॉजिटिव, पांच अस्पताल सील, स्वास्थ्य सेवाएं ठप

डॉक्टर, फार्मासिस्ट व वार्ड ब्याय पॉजिटिव, पांच अस्पताल सील, स्वास्थ्य सेवाएं ठप

जनपद में अलग-अलग जगहों पर स्थित सरकारी अस्पतालों के डॉक्टर, फार्मासिस्ट व वार्ड ब्याय की रिपोर्ट पॉजिटिव आया है। इसके बाद सभी अस्पतालों की स्वास्थ्य सेवाएं ठप हो गयी तथा उन्हें सील कर दिया गया। अस्पताल पर इलाज बंद होने के चलते इलाकाई लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

दलनछपरा हिसं के अनुसार पीएचसी मुरलीछपरा के फार्मासिस्ट की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव गुरुवार को पॉजिटिव आते ही गुरुवार को अस्पतालकर्मियों में खलबली मच गयी। इसके बाद एहतियातन पीएचसी को सील कर दिया गया। अस्पताल के स्वास्थ्य सेवाओं के बंद होने से इलाके के लोगों की परेशानी भी बढ़ गयी है।

बताया जाता है कि करीब एक माह पहले स्वास्थ्य केन्द्र पर तैनात लैब टेक्निशियन के संक्रमित मिला था। इसके बाद अब फार्मासिस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव निकली है। पीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. देवनीति सिंह का कहना है कि सेनेटाइज करने के लिये अस्पताल को दो दिनों के लिये सील किया गया है। उनका कहना है कि शनिवार को उपचार शुरु हो जायेगा।

मनियर हिसं के स्थानीय पीएचसी पर तैनात एक वार्ड ब्याय की रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही डॉक्टरों व कर्मचारियों में खलबली मच गयी। गुरुवार को अस्पताल को सील कर दिया गया। इसके बाद अस्पताल पर तैनात डॉक्टरों व कर्मचारियों की सैम्पलिंग की गयी। अस्पताल के प्रभारी अधीक्षक डॉ. शहाबुद्दीन का कहना है कि अस्पताल को फिलहाल सील कर सभी तरह के स्वास्थ्य सेवाओं को बंद कर दिया गया है।

रेवती हिसं के अनुसार स्थानीय सीएचसी व न्यू पीएचसी कुसौरी कलां में ड्यूटी करने वाली महिला चिकित्सक की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद से लोग परेशान हैं। इस बात की जानकारी होते ही दोनों अस्पतालों को सील कर दिया गया। बताया जाता है कि जिस चिकित्सक की रिपोर्ट पॉजिटिव निकली है वह सप्ताह में तीन दिन सीएचसी रेवती तथा तीन दिन न्यू पीएचसी कुसौरी कला पर रोगियों का इलाज करती हैं। संक्रमित डॉक्टर गुरुवार को भी न्यू पीएचसी कुसौरी कलां पर आकर मरीजों का इलाज किया था। सीएचसी के प्रभारी अधीक्षक डॉ. धर्मेन्द्र कुमार का कहना है कि दोनों अस्पतालों को तीन दिनों के लिये सील कर दिया गया है। इस दौरान बाकि स्टॉफ की सैम्पलिंग व सेनेटाइज का कार्य किया जायेगा।

कंटेनमेंट जोन में भी नहीं लग रहा प्रतिबंध

बिल्थरारोड। स्थानीय कस्बे में स्थित रोडवेज बस डिपो के पांच कर्मचारियों के साथ ही एक दवा दुकानदार की रिपोर्ट पॉजिटिव निकलने के बाद लोग सकते में हैं। औपचारिकता निभाते हुए सिर्फ दवा की दुकान व बस डिपों को बांस-बल्ली से बैरिकेटिंग कर दिया गया है। हालांकि उक्त दोनों स्थानों के आसपास की दुकानें खुल रही हैं। लोगों का कहना है शासन की ओर से जारी गाइड लाइन में कंटेनमेंट जोन के आसपास करीब सौ मीटर की एरिया में आवागमन व दुकानों के खोलने पर प्रतिबंध लगाने का नियम है। हालांकि इसके बावजूद हॉटस्पाट क्षेत्र में दुकानों का खुलना लोगों की समझ से परे हैं।

एसडीएम ने किया हॉटस्पाट का निरीक्षण

बैरिया। एसडीएम सुरेश कुमार पाल व एसओ संजय त्रिपाठी ने गुरुवार को कंटेनमेंट जोन रानीगंज बाजार के सुनार पट्टी का जायजा लिया। उन्होंने व्यपारियों से रोस्टर के हिसाब से दुकान खोलने का निर्देश दिया। बताया जाता है कि बाजार के तीन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद हॉटस्पॉट घोषित कर दिया गया था। इसके बाद भाजपा जिला अध्यक्ष जयप्रकाश साहू, व्यापार मंडल के अध्यक्ष रविंद्र सिंह गुड्डू, जीतेंद्र सर्राफ आदि ने एसडीएम से दुकानों को खोलने की अनुमति देने का अनुरोध किया था।

------------------------------------------------

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Doctor pharmacist and ward boy positive five hospital seals health services stalled