DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  बलिया  ›  20 साल 9 माह में ही बन गया ग्राम प्रधान!

बलिया20 साल 9 माह में ही बन गया ग्राम प्रधान!

हिन्दुस्तान टीम,बलियाPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 03:12 AM
20 साल 9 माह में ही बन गया ग्राम प्रधान!

सिकंदरपुर। हिन्दुस्तान संवाद

यूं तो पंचायत चुनाव लड़ने की उम्र 21 साल है लेकिन नवानगर ब्लॉक के ग्राम पंचायत नवानगर में आयु छिपाकर ग्राम प्रधान बनने का मामला प्रकाश में आया है। इस बात को लेकर चुनाव अधिकारी का तर्क है कि शपथ पत्र के मुताबिक विजेता प्रधान की उम्र 21 वर्ष है और वह पांचवी पास है। जबकि शिकायतकर्ता और प्रधानी चुनाव के उप विजेता ने जो प्रमाण प्रस्तुत किया है उसके मुताबिक नामांकन के समय नीतीश की आयु 20 वर्ष 9 माह ही है। स्कूल के प्रमाण पत्र में विजेता प्रधान की जन्मतिथि 20 जुलाई 2000 अंकित है। ग्राम पंचायत नवानगर में नीतीश कुमार ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी व शिकायतकर्ता कन्हैया को 37 मतों से पराजित किया। परिणाम घोषित होने के कारण चुनाव अधिकारी अब इस मामले से पल्ला झाड़ रहे हैं लिहाजा शिकायतकर्ता ने अदालत का दरवाजा खटखटा दिया है।

आरोप है कि निर्वाचित प्रधान नीतीश ने उम्र छुपाने के साथ ही अपनी शैक्षिक योग्यता भी छिपाई है। नीतीश ने 2017 में बंशीबाजार इंटर कालेज से इंटरमीडिएट की परीक्षा द्वितीय श्रेणी में पास की है जबकि शपथ पत्र में पांचवी पास दर्शाया है। शिकायतकर्ता के अनुसार नामांकन दाखिल करने के बाद साक्ष्य समेत इसकी आपत्ति रिटर्निंग ऑफिसर से की गई थी लेकिन उन्होंने शपथ पत्र का हवाला देकर टाल दिया। बताया कि इस बाबत जिलाधिकारी व मुख्य निर्वाचन आयुक्त से दो बार शिकायत की जा चुकी है, फिर भी किसी ने संज्ञान नहीं लिया। उधर, नवनिर्वाचित प्रधान नीतीश कुमार ने सारे आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है। कहा कि यह सब हमें फंसाने की साजिश है।

संबंधित खबरें