DA Image
22 जनवरी, 2021|4:05|IST

अगली स्टोरी

बलिया : विशेष भृगुवंशी का भृगुनगरी में हुआ स्वागत

बलिया : विशेष भृगुवंशी का भृगुनगरी में हुआ स्वागत

भृगुनगरी के लिए गुरुवार का दिन विशेष रहा। भारतीय बास्केटबॉल टीम के कप्तान व हाल ही में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित विशेष भृगुवंशी यहां आए तो खेल मंत्री उपेन्द्र तिवारी ने अपने आवास पर गर्मजोशी से स्मृति चिह्न देकर स्वागत किया। मिठाई भी खिलायी। बदले में विशेष ने भी मंत्री को बास्केटबाल भेंट कर सम्मानित किया। साथ में विशेष के बड़े भाई व अन्तरराष्ट्रीय बास्केटबॉल प्रशिक्षक विभोर भृगुवंशी भी थे।

इस दौरान मंत्री ने कहा कि अर्जुन पुरस्कार विजेता विशेष भृगुवंशी भारतीय खेल जगत की धरोहर हैं। उत्तर प्रदेश को ऐसी खेल विभूति पर गर्व है। उम्मीद जतायी कि भविष्य में भी विशेष भारत को अंतरराष्ट्रीय फलक पर गौरवान्वित करते रहेंगे। कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार का लक्ष्य है कि भविष्य में हम ओलंपिक पदक तालिका में टॉप टेन में पहंुचे। इसके लिए सरकार प्रतिबद्धता के साथ योजनाबद्ध तरीके से कार्य कर रही है।

जिला क्रीड़ाधिकारी डॉ अतुल सिन्हा ने कहा कि विशेष भारतीय बास्केटबॉल के विशिष्ट खिलाड़ी हैं। मेरे लिए यह गौरव की बात है कि मैंने विशेष को प्रशिक्षण दिया है। क्रीड़ाधिकारी ने मंत्री को खेल विकास के लिए लगातार प्रयत्नशील रहने पर धन्यवाद ज्ञापित किया।

बड़े भाई ने विशेष के पुरस्कार को बताया सबसे बड़ी खुशी

अन्तराष्ट्रीय बास्केटबॉल प्रशिक्षक विभोर भृगुवंशी ने कहा कि जिस दिन विशेष को अर्जुन पुरस्कार के लिए चयनित होने की सूचना मिली थी वह दिन हमारे परिवार के लिए सबसे खुशी का दिन था। हम सभी को ऐसा महसूस हुआ कि हमारा परिवार भारतीय खेलों में अमर हो गया। उल्लेखनीय है कि 2017 में नेपाल में आयोजित अंडर-16 साउथ एशियन बास्केटबाल चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक विजेता भारतीय बास्केटबाल टीम के प्रशिक्षक विभोर भृगुवंशी का विशेष की खेल उपलब्धियों में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। एक बड़े भाई के रूप में विभोर हमेशा अपने अनुज के लिए बास्केटबॉल में प्रेरणास्रोत रहे हैं।

नौनिहालों से बोले, ‘विशेष से भी ‘विशेष बनिए

खेल मंत्री के आवास से निकले विशेष भृगुवंशी सामने स्टेडियम में पहुंच गए। अर्जुन पुरस्कार विजेता व भारतीय टीम के कप्तान को अपने बीच पाकर बास्केटबॉल के नौनिहालों में उत्साह चरम पर था। खिलाड़ियों में बास्केटबॉल की जिज्ञासा को देखकर विशेष ने उनके बीच अच्छा समय बिताया। बास्केटबॉल कोर्ट पर पहुंचकर विशेष ने अपना अनुभव साझा किया और खिलाड़ियों का मार्गदर्शन भी किया। खिलाड़ियों से कहा कि स्ट्रेन्थ ट्रेनिंग व इन्डोरेन्स ट्रेनिंग के साथ आवश्यकता है कि आप अपने गेम पर फोकस करें। बड़ी सफलता के लिए अनुशासन के साथ नियमित अभ्यास भी आवश्यक है। एक खिलाड़ी ने विशेष से पूछा कि सर, हम सब आपकी तरह कैसे बन सकते हैं? जवाब में भारतीय टीम के कप्तान ने कहा कि मैं चाहता हूं कि आप सभी मुझ विशेष से भी ‘विशेष बन कर निकलें।

नवोदित खिलाड़ियों संग ली सेल्फी

विशेष भृगुवंशी को बलिया में पाकर सेल्फी व ऑटोग्राफ लेने की होड़ युवाओं व नवोदित खिलाड़ियों में लग गयी। विशेष ने भी किसी को निराश नहीं किया। यही नहीं, भारतीय बास्केटबाल टीम के कप्तान ने स्वयं अपने मोबाइल से इन नवोदित खिलाड़ियों के साथ सेल्फी ली। विशेष की इस सहृदयता व खेल भावना को देख बच्चे गदगद हो गए।

इनसेट

जिला बास्केटबाल संघ ने किया सम्मानित

वीर लोरिक स्टेडियम में अर्जुन अवार्डी विशेष भृगुवंशी व अंतरराष्ट्रीय बास्केटबाल प्रशिक्षक विभोर भृगुवंशी को जिला बास्केटबाल संघ ने भी सम्मानित किया। इस दौरान एसोसिएशन के सचिव धनंजय सिंह ने कहा कि सम्पूर्ण जनपद के लिए यह सौभाग्य का विषय है कि भारतीय बास्केटबाल टीम के कप्ताह व अर्जुन पुरस्कार विजेता आज बलिया में हैं। इस दौरान संघ के अध्यक्ष अजय सिंह, मेजर दिनेश सिंह, रघुनाथ सिंह, अरुण राय गोल्डी, राजेश सिंह, अविनाश पांडे, राकेश सिंह, राहुल चौहान आदि थे।

इनसेट

यूपी कालेज की मिट्टी में है खेल की खुशबू

अन्तराष्ट्रीय बास्केटबॉल स्टार लेब्रान जेम्स को अपना आदर्श मानने वाले भारतीय कप्तान विशेष भृगुवंशी अपनी सफलता का श्रेय अपने माता पिता और बड़े भाई विभोर भृगुवंशी को देते हैं। कहा कि अब तक के सफर में सहयोग करने वाले सभी प्रशिक्षकों को भी अपनी सफलता का श्रेय देना चाहता हूं। मेरे कैरियर में गुरूजन की भूमिका भी महत्वपूर्ण रही है। उदय प्रताप कॉलेज (वाराणसी) के खेल मैदान से बास्केटबॉल का ककहरा सीखने वाले विशेष का मानना है कि उदय प्रताप कालेज की मिट्टी में खेलों की खुशबू है, जिसने देश को दर्जनों अन्तराष्ट्रीय खिलाड़ी दिए। विशेष ने खेल की दुनिया में अपने बड़े भाई विभोर से प्रेरणा लेकर कदम रखा तथा 2004 में जब अन्डर-13 भारतीय बास्केटबॉल कैम्प के लिए चयनित हुए, उसी पल ने जिन्दगी की दिशा बदल दी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Ballia Special Bhriguvanshi welcomed in Bhrigunagri