DA Image
1 नवंबर, 2020|3:34|IST

अगली स्टोरी

आयुष्मान भारत को अभी तैयार हो रहा सिस्टम

केन्द्र सरकार की महत्वकांक्षी आयुष्मान भारत योजना को लेकर सरकार भले ही सक्रिय है, सरकारी तंत्र अपनी ही रफ्तार में आगे बढ़ते दिख रहा है। शुरु होने के पांच दिनों बाद भी स्वास्थ्य विभाग के पास पंजीकृत परिवारों का ब्योरा तक उपलब्ध नहीं है। अभी तक निजी अस्पतालों की सूची भी फाइनल नहीं हो सकी है, जहां योजना के तहत पात्र अपना इलाज करायेंगे। 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछले रविवार को पूरे देश में एक साथ आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की। जिले में भी इसकी शुरुआत पर शहर के टीडी कॉलेज के सभागार में हुआ। इसमें सांसद व विधायक के साथ ही जिले के आला अफसर भी शामिल हुए। कुछ लोगों को जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों ने 'गोल्डेन कार्ड' भी दिया। पीएम की इस योजना को लेकर लोगों के मन उत्सुकता जरुर है लेकिन उन्हें इससे जुड़ी जानकारी उन्हें सहज तरीके से उपलब्ध नहीं हो पा रही है। 
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि चूंकि योजना को शुरु हुए अभी कुछ दिन ही हुए हैं, लिहाजा सिस्टम तैयार हो रहा है। उनका कहना है कि इसका प्रचार-प्रसार हो रहा है तथा लोग धीरे-धीरे इसके प्रति जागरुक भी हो रहे हैं। वर्तमान समय में इस योजना के तहत जिला अस्पताल व जिला महिला अस्पताल में ही इलाज की व्यवस्था की गयी है। विभागीय लोगों का कहना है कि आने वाले समय में प्राईवेट अस्पतालों में योजन के तहत आने वाले रोगियों का उपचार होने लगेगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Ayushman India is now preparing the system