DA Image
27 नवंबर, 2020|10:55|IST

अगली स्टोरी

नए पुल के बाद पुराने की भी मरम्मत से राहत की आस

नए पुल के बाद पुराने की भी मरम्मत से राहत की आस

द्वाबा की लाइफ लाइन बैरिया-सुरेमनपुर मार्ग पर रानीगंज बाजार भागड़ नाले पर नए पुल के बन जाने के बाद पुराने पुल की भी मरम्मत का कार्य शुरू हो गया है। इसके तैयार हो जाने के बाद यहां बार-बार लगने वाले जाम से लोगों को मुक्ति मिल जाएगी ।

करीब चार दशक पहले वर्ष 1982 में द्वाबा के तत्कालीन विधायक डॉ भोला पांडे के प्रयास से लोकनिर्माण विभाग ने भागड़ नाले पर पुल का निर्माण कराया था। इस पुल के निर्माण में उस वक्त 15 लाख रुपये खर्च आये थे। समय बीतने के साथ रख-रखाव के अभाव में पुल की स्थिति लगातार खराब होती गयी। वर्ष 2008 में पुल का अप्रोच धंस गया लेकिन विभागीय कर्मचारियों ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया। पुल का अप्रोच वर्ष 2019 में दोबारा टूट जाने के कारण कई दिनों तक आवागमन बाधित रहा। हालांकि कुछ दिनों बाद ही नए पुल के बन जाने से लोगों का आवागमन सुलभ हो गया। अब पुन: पुराने पुल की ढलाई कर उसे चलने लायक बनाया जा रहा है। रविवार को ठेकेदार द्वारा पुल की ढलाई कर दी गयी। इस पुराने पुल के बन जाने से रोज-रोज लगने वाले जाम से छुटकारा मिल जाएगा और आवागमन आसान हो सकेगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:After the new bridge there is hope of relief from repair of old