DA Image
Thursday, December 9, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश बहराइचदलहन के सीमित स्टॉक के फरमान पर आक्रोश

दलहन के सीमित स्टॉक के फरमान पर आक्रोश

हिन्दुस्तान टीम,बहराइचNewswrap
Wed, 07 Jul 2021 03:01 AM
दलहन के सीमित स्टॉक के फरमान पर आक्रोश

नानपारा। संवाददाता

केन्द्र सरकार की ओर से दो जुलाई को अधिसूचना जारी कर सभी दालों के थोक व खुदरा स्टाक रखने की सीमा तय किया जाना व्यापारियों को नागवार गुजरा। दलहन स्टॉक लिमिट को लेकर गल्ला व्यापारियों ने आक्रोश जताया है। उन्होंने उद्योग व्यापार मंडल नानपारा की अगुवाई में मंगलवार को रेल उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री केंद्र सरकार को सम्बोधित ज्ञापन नानपारा मंडी सचिव मुकेश त्रिपाठी को सौंपा।

नानपारा व्यापार मंडल अध्यक्ष अब्दुल मुशीर सेठ ने बताया कि व्यापार को बढ़ावा देने, किसानों की आय दोगुनी करने संबंधी सरकार की तमाम नीतियों का व्यापारियों ने समर्थन किया है। अब सरकार की ओर से जारी किया गया नया फरमान व्यापारियों के गले नहीं उतर रहा। केंद्र सरकार की ओर से दो जुलाई 2021 को अधिसूचना जारी करके मूंग को छोड़ कर सभी दालों के थोक व खुदरा व्यापारियों, मिल मालिकों और आयातकों की स्टॉक लिमिट रखने की सीमा अगस्त तक तय कर दी गई।

ज्ञापन के माध्यम से व्यापारी की समस्या के समाधान की मांग की गई है। इस मौके पर राजेश भीमराजका, मुक्ति नाथ साहू, तेज प्रकाश, गोपाल, प्रदीप कुमार,आशीष, मनीष कुमार, अवधेश आदि व्यापारी मौजूद रहे।

इनसेट

100 टन की सीमा से आपूर्ति प्रभावित होगी

नानपारा। नानपारा व्यापार मंडल अध्यक्ष के मुताबिक केन्द्र सरकार की ओर से जारी की गई नई बंदिशों से थोक, खुदरा व्यापारी, आयातक, किसान व उपभोक्ता भी प्रभावित होंगे। आम तौर पर एक व्यापारी 3000 से 5000 टन तक का आयात करता है। अब प्रत्येक पर 100 टन की सीमा लगाने से आपूर्ति प्रभावित होगी। इस आदेश से सभी व्यापारी हैरान व परेशान हैं।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें