DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  बहराइच  ›  निजी डाक्टर के साथ पहुंची भीड़ ने सीएमओ आवास घेरा

बहराइचनिजी डाक्टर के साथ पहुंची भीड़ ने सीएमओ आवास घेरा

हिन्दुस्तान टीम,बहराइचPublished By: Newswrap
Sat, 24 Apr 2021 10:20 PM
निजी डाक्टर के साथ पहुंची भीड़ ने सीएमओ आवास घेरा

डाक्टर ने लगाया कम आक्सीजन सिलेंडर देने का आरोप, उनके साथ आए लोगों ने भी आक्सीजन की मांग की

इंडिया हास्पिटल के डॉक्टर गयास पर कुछ दिन पूर्व सीएमओ ने दर्ज करवाई थी एफआईआर

फोटो फाइल नंबर- 24 बीएएचपीआईसी 08 है।

कैप्सन- पुलिस से नोकझोक करती महिलाएं व साथ में मौजूद डॉ. गयास

बहराइच। हिन्दुस्तान संवाद

कोरोना संक्रमण की मार से समूचा देश कराह रहा है। हर रोज संक्रमण से ग्रसित मरीजों की मौत की खबरें आ रही हैं। कोरोना संक्रमण के दौरान आक्सीजन की मांग में काफी वृद्धि हुई है। आक्सीजन को लेकर नोकझोक का सिलसिला भी शुरू हो गया है। शुक्रवार की रात इंडिया हॉस्पिटल के संचालक डॉ. गयास व उनके साथ पहुंची भीड़ ने सिलेंडर की मांग करते हुए सीएमओ आवास का घेराव किया। इस दौरान डॉ. गयास ने मांग के मुताबिक सिलेंडर न मिलने का आरोप लगाया। हंगामे के कारण मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने लोगों को समझा बुझाकर वापस कर दिया।

डॉ. गयास व उनके साथ कुछ लोगों ने शुक्रवार की रात सीएमओ आवास का घेराव किया। आक्रोशित भीड़ में मौजूद महिलाओं में से एक महिला ने कहा कि उसकी बहू को आक्सीजन लगा है। आक्सीजन की कमी से उसकी बहू को कुछ भी हो सकता है। इसी प्रकार एक अन्य महिला ने भी आरोप लगाए। वहीं डॉ. गयास ने कहा कि उनके पास 80 खाली आक्सीजन सिलेण्डर हैं, उसमें से उन्हें सिर्फ 10 सिलेण्डर दिए जा रहे हैं। ऐसे में उन्हें कम से कम 50 प्रतिशत सिलेण्डर उपलब्ध कराए जाएं, जिससे गम्भीर बीमारियों से ग्रस्त रोगियों का इलाज किया जा सके।

सीएमओ ने डॉ. गयास पर दर्ज कराया था एफआईआर

बहराइच। नर्सिंग होम के संचालक डॉ. गयास पर कुछ दिन पूर्व ही सीएमओ ने कोरोना मरीजों का इलाज करने का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज करवाई थी। जिसके बाद से ही हलचल का दौर शुरू हुआ है। सीएमओ आवास के घेराव से एक दिन पूर्व आक्सीजन की कमी की बात कहकर डॉ. गयास की ओर से सीएमओ के वार्तालाप की गई थी, और सीएमओ के पैर तक पकड़ने की बात भी सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी।

अनाधिकृत इलाज के दोषी पाए जाने पर किया हंगामा: सीएमओ

बहराइच। सीएमओ आवास के घेराव प्रकरण पर जब सीएमओ डॉ. राजेश मोहन श्रीवास्तव ने बताया कि डॉ. गयास अनाधिकृत रूप से गंभीर मरीजों का इलाज कर रहे थे। जिसकी जांच एसडीएम व स्वास्थ्य टीम ने की थी। डॉ. श्रीवास्तव ने बताया कि वह केवल 14 वर्ष की आयु के बच्चों के इलाज के लिए अधिकृत हैं। जबकि उनके हॉस्पिटल की जांच की गई, तो वहां कई गंभीर रोगियों का इलाज होता पाया गया। जिसके बाद उनपर कार्रवाई के लिए प्रशासन को रिपोर्ट भेज दी गई थी। जिसके बाद झल्लाए डॉ. गयास ने कुछ राजनीतिक लोगों को लेकर आवास का घेराव किया और आक्सीजन की कमी का आरोप लगाया। जबकि पिछले तीन दिनों में उनको 130 आक्सीजन सिलेंडर मुहैय्या कराए जा चुके हैं।

संबंधित खबरें