DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  बहराइच  ›  बहराइच : बलिदान दिवस पर याद किए गए चहलारी नरेश
बहराइच

बहराइच : बलिदान दिवस पर याद किए गए चहलारी नरेश

हिन्दुस्तान टीम,बहराइचPublished By: Newswrap
Sun, 13 Jun 2021 11:40 PM
बहराइच : बलिदान दिवस पर याद किए गए चहलारी नरेश

बहराइच। संवाददाता

शहर के सेनानी भवन में रविवार को चहलारी नरेश बलभद्र सिंह का बलिदान दिवस मनाया गया। इस दौरान लोगों ने उनके संघर्ष के संस्मरण साझा किए, और उनकी ओर से किए गए साहसिक कार्यों को सराहा गया। नगर पंचायत कैसरगंज के अंतर्गत ग्राम गुथिया में किसान पीजी कॉलेज के मध्यकालीन इतिहास विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. सत्यभूषण सिंह के आवास वेणुकुंज में चहलारी नरेश बलभद्र सिंह का बलिदान दिवस मनाया गया। इस अवसर पर लोगों ने चहलारी नरेश को श्रद्धांजलि दी और उनके प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में योगदान को याद किया। अध्यक्षता पूर्व सैनिक विजय कुमार सिंह पदुम ने की।

इस अवसर पर युवा प्रांत संयोजक सक्षम मानवेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि यह वही भूमि है जहां बलभद्र सिंह जैसा वीर पैदा हुआ था। यह हमारे जिले का गौरव है कि इस माटी ने ऐसे राष्ट्रभक्त वीरों को जन्म दिया है। इस अवसर पर डॉ.सत्यभूषण सिंह ने साहित्यकार सत्यव्रत सिंह के प्रबंध- काव्य चहलारी नरेश वीर बलभद्र सिंह का वाचन हुए कहा कि -अट्ठारह सौ सत्तावन के वीर अमर बलिदानी, वृद्धों के भी पूज्य बन गए कर उत्सर्ग जवानी। जन मन में बलभद्र सिंह की छवि जाती जब जाग, बुझ सकती है देश प्रेम की तब कैसे वह आग, जिसने तृण सम जला दिए थे स्वार्थ और ममता, भ्रम, स्वतंत्रता के सम या बढ़कर रत्न न कोई उत्तम।

इस अवसर पर रूपेश कुमार सिंह जीतू उच्च न्यायालय के अधिवक्ता अभिषेक सिंह, सूरज दीपक सिंह सोनू, समर विजय सिंह, विष्णु प्रताप सिंह अमन व सोनू लोधी सहित अनेक लोग मौजूद रहे। कार्यक्रम का संयोजन सत्यवीर सिंह ने किया।

संबंधित खबरें