DA Image
19 अक्तूबर, 2020|6:03|IST

अगली स्टोरी

बहराइच: अन्तर्जनपदीय ठगी गिरोह के सरगना सहित 7 गिरफ्तार

बहराइच: अन्तर्जनपदीय ठगी गिरोह के सरगना सहित 7 गिरफ्तार

शहर के चांदपुरा में गुल्लावीर रोड पर गत माह कियारा माइक्रो क्रेडिट बिज़नेस साल्यूशंस कंपनी का दफ्तर खोल विभिन्न कर्ज के नाम पर लोगों से करोड़ों की रकम ठगी गई। दरगाह थाने व स्वाट की संयुक्त टीम ने इस ठग रैकेट के सरगना सहित सात नटवरलालों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से विभिन्न दस्तावेज, मुहरें, लेपटॉप आदि बरामद किया गया है। गिरफ्तार आरोपियों को पूछताछ के बाद जेल भेज दिया गया है।

एसपी डाॅ. विपिन कुमार मिश्रा ने बताया कि दरगाह थाने के चांदपुरा में कुछ लोगों ने कियारा माइक्रो क्रेडिट बिज़नेस सॉल्यूशन नामक आर्कषक दफ्तर बनाकर लोगों को विभिन्न प्रकार के कर्ज दिए जाने के नाम पर पहले खाते को 47 सौ रुपए जमा कराए। उसके बाद फाइल की प्रारम्भिक प्रक्रिया में क्रेडिट के नाम पर बड़ी रकम ली गई। लोगों को पांच लाख से अधिक के कर्ज दिए जाने का झांसा देकर यह रकम इकट्ठा की गई। एक कर्ज लेने के तलबगार वीरगंज निवासी सैय्यद मोहम्मद जायर नकवी पुत्र मोहम्मद ताहिर को ऋण हो गया।

उन्होंने गहराई से पूछताछ की तो इस ठगी नेटवर्क के सभी लोग दफ्तर व रिहायशी कमरे बंद कर फरार हो गए। इस मामले में ठगी का केस दर्ज किया गया। गिरोह की गिरफ्तारी को मदद में दरगाह एसएचओ मधुप नाथ मिश्रा को स्वाट टीम को मदद को लगाया गया। एएसपी सिटी कुंवर ज्ञानंजय सिंह व सीओ सिटी टीएन दुबे के पर्यवेक्षण में एसएचओ मधुप नाथ मिश्रा, उपनिरीक्षक अरविंद कुमार, स्वाट के उपनिरीक्षक कौसर खान ने टीम के साथ सर्विलांस के जरिए गुरुवार की सुबह फिरोजाबाद जिले के चौकी राजा के तालाब नियर नगला गोला चौराहा पर दबिश देकर ठग रैकेट के सरगना सहित सात ठगों को धर दबोचा।

इनकी पहचान मेरठ जिले के कंकरखेड़ा थाने के सिधावली, रोहता रोड निवासी मोहम्मद एजाज उर्फ बाबी चौधरी, मोहम्मद जावेद, इमरान खान, सादाब, रोहटा थाने के बिलाल चौधरी भावनपुर थाने के मेदपुर निवासी साकिब, मुजफ्फरनगर जिले के जानसठ थाने के तिसंग गांव निवासी बसीम के रूप में हुई है। इनकी निशानदेही पर ठगी की कुछ रकम, फर्जी दस्तावेज, लेपटॉप आदि बरामद कर जिले में लाकर पूछताछ के बाद जेल भेज दिया है।

ठग रैकेट का मास्टर माइंड है बाबी चौधरी

बहराइच। लाक डाउन के बाद आर्थिक मंदी से जूझ रहे लोगों को रोजगार को बड़ी रकम का कर्ज मुहैया कराने के नाम पर ठगी गैंग के गिरोह का सरगना मोहम्मद एजाज उर्फ बाबी चौधरी है। उसका दाहिना हाथ मुजफ्फरनगर का बसीम था। गिरोह में लगभग 10 लोग हैं। जिले में ठगी की नेटवर्किंग से पूर्व यह गिरोह गाजियाबाद व मेरठ में भी अपने दफ्तर खोल लोगों की जमा पूंजी ठग चुका है। इस जरायम में यह लोग पूर्व में गिरफ्तार होकर जमानत पर छूट कर बहराइच में अपना जाल फैलाए थे। एक कर्ज लेने के तलबगार के चार्टर एकाउंटेंट दोस्त की पूछताछ के बाद एकाएक यह गिरोह 15 सितम्बर को फरार हुआ था। 16 सितम्बर को तहरीर मिलने पर केस दर्ज हुआ। 16 दिन के अंतराल में ही इस गैंग के सरगना व गुर्गों की गिरफ्तारी से बेहतर पुलिसिंग की एक झलक दिखाई दी है।

गिरोह की गिरफ्तारकती रही टीम

बहराइच। एसपी के कड़े निर्देश पर ठग गिरोह की गिरफ्तारी को लेकर दरगाह थाने की पुलिस व स्वाट ने दो सप्ताह तक काफी मेहनत की। लोकेशन के आधार पर गाजियाबाद, मेरठ के बाद टीम फिरोजाबाद पहुंचकर सफल हुई। गिरफ्तारी में एसएचओ मधुप नाथ मिश्रा, उपनिरीक्षक अरविंद कुमार, हेड कांस्टेबल काजी अफजल, सिपाही मोहम्मद अख्तर, ज्ञान बहादुर सिंह, स्वाट उपनिरीक्षक कौसर खान, हेड , सिपाही नितिन अवस्थी, रवि यादव, सर्विलांस सिपाही जितेन्द्र यादव, नवनीत मिश्रा की भूमिका सराहनीय रही। इस टीम ने 10,150 रुपया, लेपटाप, एक कार, फर्जी आईडी आधार कार्ड, निर्वाचन कार्ड, मुहरें, चेकबुक, पम्पलेट, बैनर आदि बरामद किया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bahraich 7 arrested along with gangster thug gang leader