DA Image
1 जून, 2020|5:22|IST

अगली स्टोरी

लॉकडाउन में 50 प्रतिशत बढ़ गई पानी की खपत

default image

कोरोना से जंग में साफ-सफाई और सेनेटाइज पर फोकस है तो वहीं नगर निकायों में 50 प्रतिशत पानी की खपत बढ़ गई है। जिसकी व्यवस्था सुचारू रखने के लिए नगर निकायों का फोकस है। जिसके लिए कई कर्मचारियों को सिर्फ पेयजल व्यवस्था सुचारू रखने की जिम्मेदारी दी गई है।

बागपत नगर पालिका के वरिष्ठ लिपिक महेश शर्मा ने बताया कि बागपत शहर में चार ओवरहेड़ टैंक है, जिनमें एक 1500 किलोमीटर, दो 1200-1200 किलोलीटर और एक 120 लीटर का है। जहां लॉकडाउन से पहले सिर्फ सुबह और शाम के समय ही पानी सप्लाई दी जाती थी, लेकिन अब तीन बार सप्लाई दी जा रही है। इसके अलावा गली-मोहल्लों में लीकेज की समस्या का भी समाधान कराया गया।

वहीं बड़ौत नगर पालिका जलकल विभाग जेई कामेंद्र सिंह ने बताया की नगर में 6 से 8 एमएलडी पानी खपत होती है। लॉकडाउन शुरू होने के बाद से 2 घंटा ट्यूबवेल अतिरिक्त चलाई जा रही है। लॉकडाउन से विभिन्न प्रतिष्ठानों पर खर्च होने वाली पानी की बचत हो रही है।

अग्रवाल मंडी टटीरी नगर पंचायत के लिपिक अंकित शर्मा ने बताया कि अब पानी की ज्यादा खपत हो रही है, जिसके लिए सप्लाई बढ़ाई गई है। छपरौली नगर पंचायत के चेयरमैन संजीव व ईओ मनीष व्यास का कहना है कि पानी की व्यवस्था के लिए तीन ओवरहेड़ टैंक है।

अब तीन बार पानी सप्लाई दी जा रही है। दाहा व टीकरी नगर पंचायत के वरिष्ठ लिपिक विनोद कुमार ने बताया कि उनके यहां एक-एक टंकी है। कस्बे के लोगों को साफ-पानी की सप्लाई दी जा रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Water consumption increased by 50 percent in lockdown