DA Image
24 जनवरी, 2021|10:36|IST

अगली स्टोरी

एक माह पहले बेटे के अपहरण का हुआ था प्रयास

एक माह पहले बेटे के अपहरण का हुआ था प्रयास

बागपत/बड़ौत। संवाददाता

व्यापारियों के अनुसार अपह्रत लोहा व्यापारी आदीश जैन के बेटे अर्पित उर्फ रिंकू के भी अपहरण का प्रयास इन्हीं बदमाशों द्वारा 26 सितंबर 2020 को किया गया था। उस समय वेगेनार कार में सवार बदमाशों ने अर्पित का उनकी दुकान से अपहरण का प्रयास किया था जिसमे बदमाश सफल नहीं हो पाए थे। इतनी बड़ी घटना होने के बाद भी परिजनों ने पुलिस को कोई सूचना तक नहीं दी थी, लेकिन अब अर्पित के पिता आदीश जैन के अपरहण के बाद इस बात का खुलासा हुआ।

अपहरण को लेकर व्यापारियों किया रोष प्रकट

बड़ौत। नगर में बिनौली रोड पर भाजपा नेता प्रदीप जैन के प्रतिष्ठान पर व्यापारियों की एक बैठक हुई,जिसमें व्यापारी के अपहरण पर रोष प्रकट किया। उन्होंने बाजार में पुलिस की गश्त बढ़ाए जाने की मांग की।

व्यापारी के साथ हुई घटना की वह कड़े शब्दों में निंदा करते है। अगर पुलिस ने व्यापारी को जल्द बरामद नहीं किया तो आंदोलन किया जाएगा। व्यापारियों ने इसके लिए पुलिस-प्रशासन को 48 घ्ांटे का समय दिया। व्यापारियों के बीच पहुंचे बड़ौत विधायक केपी मलिक ने इस मामले में उच्च अधिकारियों से मिलने की बात कहीं।इस मौके पर चेयरमैन अमित राणा, अरूण तोमर, प्रदीप जैन,आकाश बंसल,रवि पालिवाल,योगेश जिंदल, नवनीत जैन, मुदित जैन आदि थे।

पुलिस की आठ टीमे गठित

बड़ौत। अपह्रत व्यापारी को बरामद करने के लिए आईजी प्रवीण कुमार के निर्देश पर पुलिस व क्राइम ब्रांच समेत आठ टीमों को लगाया गया। इसके अलाया यूपी एसटीएफ की टीम भी बदमाशों की तलाश में जुट गई।

पिता का किया अपहरण,बेटे से मांगी रंगदारी

बड़ौत। लोहा व्यापारी के अपहरण के करीब दो घंटे के बाद उनके बेटे अर्पित जैन के मोबाइल फोन पर फोन कर अपहरण करने वाले बदमाशों ने एक करोड की रंगदारी मांगी। इस बात की सूचना पर पीड़ित ने पुलिस को दी। सूचना पर हरकत में आई पुलिस ने बदमाशों की तलाश शुरू की।

दहशत में है व्यापारी का परिवार

बड़ौत। पुलिस ने भले ही व्यापारी को बरामद कर लिया हो,लेकिन उसका परिवार दहशत से उबर नहीं पा रहा है। परिवार के लोगों में दहशत का माहौल है,जिस कारण वह किसी से भी बात करने से बचते रहे।

फोन की आखिरी लोकेशन पर भटकती रही पुलिस

बड़ौत। लोहा व्यापारी आदीश जैन के अपहरण के बाद पुलिस बदमाशों की टोह लेने के लिए टीमें बना इधर-उधर खाक छानती फिरी। फिरौती के लिए लोहा व्यापारी के परिजनों को जिस स्थान से बदमाशों ने फोन किया था, उस लोकेशन को ट्रेस करने के बाद एसपी अभिषेक सिंह व कई थानों के पुलिसबल बिजरौल गांव जा पहुँचा। बिजरौल व उसके सम्पर्क मार्गों पर पुलिस इधर से उधर लास्ट लोकेशन के आधार पर बदमाशों की तलाश में भटकती रही। घण्टों तक इधर-उधर घूमने के बाद भी पुलिस को सफलता मिली।

फोन की लास्ट लोकेशन के बाद दूसरे जनपदों में भी पहुँची पुलिस

बड़ौत। बिजरौल गांव के पास लोहा व्यापारी के फोन की लास्ट लोकेशन मिलने के बाद पुलिस की टीमें बुढ़ाना, मुजफ्फरनगर, शामली में भी अपह्रत लोहा व्यापारी की तलाश में जुट गई। उधर खेकड़ा क्षेत्र में भी पुलिस ने जंगलों में कांबिंग की।

संदिग्ध स्कूटी सवार की तलाश में जुटी पुलिस

बड़ौत। सोमवार की सुबह लगभग 5 बजे लोहा व्यापारी आदीश जैन का बदमाशों द्वारा अपहरण किया गया। सीसीटीवी फुटेज में लोग व्यापारी के घर से निकलने के कुछ सेकेंड बाद ही एक स्कूटी सवार उनके पीछे जाता दिख रहा है। पुलिस इस स्कूटी सवार को भी संदिग्ध मानकर जांच में जुटी है। यह स्कूटी सवार संदिग्ध बावली रोड की तरफ से आता दिख रहा है। इस कारण पुलिस द्वारा बावली रोड समेत खत्री गढ़ी में लोगों के प्रतिष्ठानों पर लगी सीसीटीवी फुटेज खंगालने में जुटी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:There was an attempt to kidnap the son a month ago