The body of the teenager who was burning up secretly ran to see the police - चोरी-छिपे जला रहे थे किशोरी का शव, पुलिस को देख भागे DA Image
7 दिसंबर, 2019|5:58|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चोरी-छिपे जला रहे थे किशोरी का शव, पुलिस को देख भागे

दोघट थानाक्षेत्र के गांगनौली के जंगल में गुरुवार देर रात्रि नदी किनारे एक किशोरी का शव जलाने का प्रयास किया गया। सूचना पर पहुंची पुलिस को देख शव जला रहे लोग वहां से भाग खड़े हुए। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। मृतका पहचान गांगनौली निवासी किशोरी के रूप में हुई। मृतक किशोरी के चाचा ने दोघट थाने पर तहरीर दी है।

गुरुवार रात 12 बजे पुलिस को अज्ञात व्यक्ति ने फोन पर सूचना दी कि गांगनौली के जंगल में कृष्णा नदी के किनारे श्मशान घाट पर कुछ लोग एक किशोरी को मारकर जलाना चाहते हैं। जानकारी होते ही एसओ रमेश सिंह सिंधू पुलिस टीम के साथ श्मशान घाट पहुंचे। वहां कुछ लोग एक शव के पास खड़े थे। पुलिस को देखते ही श्मशान घाट में खड़े लोग शव को छोड़कर भाग खड़े हुए।

सूचना पर सीओ रमाला अनुज चौधरी भी पहुंचे और घटना की जानकारी ली। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच पड़ताल की। किशोरी की शिनाख्त गांगनौली निवासी किशोरी के रूप में हुई। वह कक्षा 11 की छात्रा थी।एसओ रमेश सिधू ने बताया कि मृतक किशोरी के चाचा जगदीश ने तहरीर दी है कि उसकी भतीजी को किसी बात पर उसके पिता ने डांट दिया था। इससे नाराज होकर उसने घर में रखी कीटनाशक दवा पी ली।

उसे उपचार के लिए बिराल और फिर बड़ौत के एक अस्पताल में ले गए जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। रात में ही किशोरी के पिता व अन्य ग्रामीण श्मशान घाट में अंतिम संस्कार के लिए ले गए थे। वहां से पुलिस को देख सभी डर गए और भाग गए। एसओ ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है, रिपोर्ट आने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल मामले की जांच कराई जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The body of the teenager who was burning up secretly ran to see the police