DA Image
25 नवंबर, 2020|1:50|IST

अगली स्टोरी

गन्ना मंत्री आज करेंगे रमाला व बागपत शुगर मिल में पेराई सत्र का शुभारंभ

गन्ना मंत्री आज करेंगे रमाला व बागपत शुगर मिल में पेराई सत्र का शुभारंभ

रमाला और बागपत सहकारी शुगर मिल में पेराई सत्र 2020-21 का प्रदेश के गन्ना मंत्री सुरेश राणा सोमवार की सुबह हवन यज्ञ कर विधिवत शुभारंभ करेंगे। दोनों ही शुगर मिलों ने गन्ना पेराई सत्र शुरू करने की पूरी तैयारी कर ली है। गन्ना आपूर्ति के लिए लगातार तीन दिन से हजारों कुंतल गन्ने की आपूर्ति के लिए इंडेट जारी किए गए हैं।

जानकारी के अनुसार रमाला सहकारी चीनी मिल परिसर में सुबह 9 बजे हवन यज्ञ में प्रदेश के गन्ना मंत्री सुरेश राणा, सांसद डा. सत्यपाल सिंह, छपरौली विधायक सहेन्द्र सिंह, बड़ौत विधायक केपी मलिक और बागपत विधायक योगश धामा, गन्ना समितियों के चेयरमैन सहित काफी संख्या में किसान शामिल होंगे। तत्पश्चात मिल की चैन में गन्ना डालकर पेराई सत्र का शुभारंभ किया है। इसकी जानकारी मिल के प्रधान प्रबंधक डा. आरबी राम ने दी। इसके अलावा बागपत शुगर मिल में भी पेराई सत्र का शुभारंभ होगा। बागपत मिल में भी प्रदेश के गन्ना मंत्री सुरेशा राणा द्वारा पेराई सत्र का शुभारंभ किया जाएगा। उधर डीएम शकुंतला गौतम ने तैयारी को लेकर मिल प्रबंधकों से बातचीत की। दोनों ही मिलों द्वारा गन्ना आपूर्ति के लिए इंडेट भी जारी किया गया है। हजारों कुंतल गन्ने की आपूर्ति पेराई सत्र के शुभारंभ पर ही होने की उम्मीद है। उधर कई जगहों पर तौल केन्द्र लगाने का काम भी चल रहा है।

----

बागपत मिल प्रशासन ने नहीं कराई गन्ना यार्ड की साफ-सफाई

बागपत शुगर मिल में सोमवार से पेराई सत्र का शुभारंभ होने जा रहा है लेकिन मिल प्रबंधन ने अभी तक गन्ना यार्ड की साफ-सफाई तक नहीं कराई। जगह-जगह कूड़े के ढ़ेर और घास फूंस लगे होने से मिल गेट पर गन्ना तौलाने के लिए आने वाले किसानों को परेशानी होनी स्वभाविक है। इस मामले में डीएम ने मिल प्रबंधक को शीघ्र मिल यार्ड की सफाई कराने के निर्देश दिए हैं।

--------------------

बागपत के किसानों का 12 मिलों पर 485.18 करोड़ बकाया

किसानों के लिए खुशी की बात है कि शुगर मिलों में पेराई सत्र 2020-21 का शुभारंभ होने जा रहा है लेकिन अफसोस की बात यह है कि जिले के किसानों का बागपत, रमाला और मलकपुर मिल सहित 12 मिलों पर गत पेराई सत्र का अभी भी 485.18 करोड़ रुपये गन्ना भुगतान बकाया है। त्योहारी सीजन में अभी तक गन्ना भुगतान न होने से किसानों की जेबें खाली है। कई बार किसानों ने बकाया गन्ना भुगतान की मांग कर चुके हैं लेकिन समस्या जस की तस पड़ी है। उधर मिल प्रबंधनों का कहना है कि चीनी की बिक्री होने पर ही किसानों का भुगतान संभव है। मिल के चीनी के काफी मात्रा में स्टॉक है।

----------------

ये हैं बकाया गन्ना भुगतान की स्थिति

शुगर मिल अवशेष बकाया

बागपत 2994. 63 लाख

रमाला 6864 . 00 लाख

मलकपुर 23540.63 लाख

किनौनी 7919.19 लाख

दौराला 0.12 लाख

नंगलामल 0.67 लाख

तितावी 7.85 लाख

खतौली 70.06 लाख

भैसाना 3264.69 लाख

ऊन 1232.90 लाख

ब्रजनाथपुर 209.97 लाख

मोदीनगर 2414.09 लाख

-------------------------------

कुल 48518.80 लाख

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sugarcane Minister will inaugurate crushing session at Ramala and Baghpat sugar mill today