Thursday, January 27, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश बागपतबागपत पहुंची शीश मार्ग यात्रा, गुरुवाणी से संगत को निहाल किया

बागपत पहुंची शीश मार्ग यात्रा, गुरुवाणी से संगत को निहाल किया

हिन्दुस्तान टीम,बागपतNewswrap
Sun, 05 Dec 2021 09:55 PM
बागपत पहुंची शीश मार्ग यात्रा, गुरुवाणी से संगत को निहाल किया

रविवार को दिल्ली के गुरूद्वारा शीश गंज गुरु तेग बहादुर की शहीदी दिवस पर शीश मार्ग यात्रा बागपत पहुंची, जिसका पुष्प बरसाकर स्वागत किया गया। इसके उपरांत जैन धर्मशाला में कीर्तन दिवान में साद संगत को गुरुवाणी से निहाल किया गया। जहां लंगर में प्रसादा वितरित किया।

कार्यक्रम को लेकर सिख समाज के साथ सर्वसमाज के लोगों में उतसाह देखने को मिला। शहर की जैन धर्मशाला में रविवार को गुरूद्वारा शीशगंज की तरफ से आयोजित शबद कीर्तन में सिख समाज के साथ-साथ सर्वसमाज के लोगों ने पहुंचकर गुरुवाणी को सुना। जहां अरदास करते हुए गुरु तेग बहादुर सिंह की शहीदी पर उन्हें शीश झुकाकर नमन किया। इस अवसर पर साद संगत को भाई हरबंत सिंह अलवर वाले और भाई जगतार सिंह अमृतसर वाले ने गुरुवाणी से निहाल किया, जहां दिनभर श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। गुरुद्वारा शीशगंज दिल्ली के मुख्यग्रंथी भाई हरनाम सिंह ने गुरुवाणी प्रवचन करते हुए गुरु तेग बहादुर सिंह जी के जीवन पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने संगत को बताया कि भाई जैता सिंह दिल्ली से शहीद गुरु तेग बहादुर सिंह का शीश लेकर बागपत आए थे। यही पर रात बीताई उसके बाद अगला पड़ाव तय किया। शीश मार्ग यात्रा में पांच पड़ाव हुए थे, जो आखिरी पड़ाव आनंदपुर साहिब रहा। गुरु की शहादत पर हर वर्ष कीर्तन दिवान के उपरांत संगत को लंगर का आयोजन किया जाता है, जिसमें श्रद्धालुओं का प्रसादा वितरित किया गया। इस मौके पर नंदलाल डोगरा, मंगली अरोरा, राजू सिंह, सुनील सिंह, सोनू अरोरा, प्रमोद परूथी, शादीलाल खुराना, हिमांशु, गौरव, मोहित आदि सहित सैकड़ों श्रद्धालु मौजूद रहे।

epaper

संबंधित खबरें