ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश बागपतशिकंजा: छोटे अपराधों पर भी अंकुश लगाने की तैयारी, तैयार हो रहा डाटा

शिकंजा: छोटे अपराधों पर भी अंकुश लगाने की तैयारी, तैयार हो रहा डाटा

बागपत। आपराधिक घटनाओं का खुलासा कर देने वाली पुलिस अब छोटे अपराधों पर शिकंजा कसने की तैयारी में है। इसके लिए पुलिस अब छोटे अपराधियों की कार्यप्रणाली...

शिकंजा: छोटे अपराधों पर भी अंकुश लगाने की तैयारी, तैयार हो रहा डाटा
हिन्दुस्तान टीम,बागपतTue, 20 Feb 2024 11:50 PM
ऐप पर पढ़ें

बागपत। आपराधिक घटनाओं का खुलासा कर देने वाली पुलिस अब छोटे अपराधों पर शिकंजा कसने की तैयारी में है। इसके लिए पुलिस अब छोटे अपराधियों की कार्यप्रणाली से लेकर घटनाओं की टाइमिंग तक सारे डाटा एकत्र कर रही है। जिससे ऐसे अपराधियों को वारदात करने से पहले ही दबोचा जा सके।

जिले में आए दिन बड़ी-बड़ी आपराधिक वारदातें हो रही हैं। इनमें से अधिकांश घटनाओं को पुलिस न केवल सफलतापूर्वक वर्कआउट कर रही है, बल्कि कई ऐसे आपराधिक खुलासे सामने आए हैं जिसने लोगों को चौंका दिया है। इसके बावजूद आए दिन हो रही चोरियों, लूट और छेड़छाड़ जैसी घटनाएं पुलिस की इस सफलता को धुंधला कर रही है। इसलिए अब पुलिस का सारा फोकस ऐसी घटनाओं को रोकने पर है। इसके लिए उन्होंने सर्किल से लेकर थाना स्तर तक सख्ती कर रही है। एएसपी एनपी सिंह का कहना है कि अपराधियों की मनोदशा और उनकी कार्यप्रणाली को भांप लेने के बाद उन पर नियंत्रण आसान हो जाएगा। यदि ऐसा हो गया तो अगले दो-तीन सालों में चोरी या लूट जैसी घटनाएं लगभग समाप्त हो जाएंगी।

--------

इस तरह के डाटा किए जा रहे हैं एकत्र

छोटी वारदातों में किस तरह के सामाजिक श्रेणी के अपराधी शामिल होते हैं

इस तरह की घटनाओं में कार्यप्रणाली कैसी है

किस समय, किस दिन या किस विशेष माह में यह घटनाएं बढ़ती हैं

ऐसे अपराध से जुड़े लोग किस तरह के नशे से जुड़े होते हैं

ऐसे अपराधियों की शरणगाह और शरणदाताओं की भी पहचान

सभी संभावित घटनास्थल के आसपास सीसीटीवी कैमरे की मौजूदगी

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें