DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बागपत › खुलासा: पांच बीघा जमीन के लिए ताऊ का अपहरण व हत्या कर शव गंगनहर में फेंका
बागपत

खुलासा: पांच बीघा जमीन के लिए ताऊ का अपहरण व हत्या कर शव गंगनहर में फेंका

हिन्दुस्तान टीम,बागपतPublished By: Newswrap
Sun, 30 May 2021 10:20 PM
खुलासा: पांच बीघा जमीन के लिए ताऊ का अपहरण व हत्या कर शव गंगनहर में फेंका

डौला गांव में पांच बीघा जमीन के लिए एक भतीजे ने अपने अविवाहिता ताऊ का अपहरण करने के बाद हत्या कर दी और फिर शव गंगनहर में फेंक दिया। जिसकी गत 20 मई को गुमशुदगी दर्ज होने के बाद पुलिस ने जांच पड़ताल की। जिसमें गुमशुदा व्यक्ति के भतीजे ने उसका अपहरण के बाद हत्या करना और शव गंगनहर में फेंकना स्वीकार किया। इस हत्याकांड का खुलासा करने के बाद पुलिस ने आरोपी को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया।

जानकारी के अनुसार डौला गांव निवासी 65 वर्षीय हरिओम पुत्र रामकिशन की पत्िन 35वर्ष पहले ससुराल छोडकर चली गई थी। उसके बाद से हरिओम अपने भाईयों के पास रहने लगा था । बताया कि गत 18 मई को वह घर से घेर में सोने के लिए रात में गया था, लेकिन घेर तक नहीं पहुंचा। जिसे काफी तलाश करने के बाद भी अता पता नहीं चला। जिसमें दो दिन बाद परिजनों ने सिंघावली अहीर थाने पर हरिओम के गुमशुदगी दर्ज कराई। थाना प्रभारी ने बताया कि इस प्रकरण में कई लोगों से पूछताछ की गई। जिसमें चौकाने वाला खुलासा हुआ। जिसके बाद आरोपी राहुल को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने पूरी घटना का खुलासा कर दिया। बताया कि घेर में जाते समय हरिओम को नशीला पदार्थ सूंघाकर भतीजे राहुल पुत्र बीरसैन ने अपहरण कर लिया था और बाद में गला घोटकर हत्या कर दी।

---

ईको गाड़ी में डालकर शव को गंगनहर मुरादनगर में फेंका, शव की तलाश जारी

राहुल ने हत्या करने के बाद अंधेरे का फायदा उठाकर अपने ताऊ मृतक हरिओम का शव ईको गाड़ी में डालकर मुरादनगर की गंगनहर में फेंक दिया था और वापस आ गया था। उन्होंने बताया कि हत्यारोपी राहुल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि गंगनहर में शव की तलाश की जा रही है। हत्या में प्रयुक्त ईको कार भी बरामद कर ली गई।

----

हरिओम के हिस्से की पांच बीघा जमीन पर थी नजर

हरिओम की हत्या का खुलासा करते हुए थाना प्रभारी रविरत्न सिंह ने बताया कि हरिओम पुत्र रामकिशन अपने भाई वीरेंद्र सिंह के ही साथ रहा था ओर उसके हिस्से में दादालाई पांच पांच बीघा जमीन आती है। जिस पर राहुल की नजर थी। अब हरिओम अपने परिवार वालों से तंग आकर कुनबे के एक व्यक्ति के पास आने जाने लगा था, जिसको लेकर राहुल नाराज चल रहा था।

---

सवाल: किसने दिया राहुल का साथ

डौला गांव के हरिओम की हत्या होने के बाद ग्रामीण भी तरह तरह की चर्चा कर रहे है और खुलासे पर भी सवाल उठा रहे हैं। जिसमें ग्रामीणों का कहना है कि राहुल ने नशीला पदार्थ सूंघाने से लेकर हत्या और फिर शव गंगनहर में फेंक दिया। इसमें दूसरा साथी भी शामिल होगा। जिसको लेकर ग्रामीण सवाल भी उठा रहे हैं।

संबंधित खबरें