DA Image
8 अगस्त, 2020|5:28|IST

अगली स्टोरी

स्वास्थ्य कर्मियों में सरकार की नीतियों के खिलाफ रोष

default image

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र छपरौली पर स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा सरकारी नीतियों के खिलाफ कैंडल जला कर रोष व्यक्त किया गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र छपरौली के स्वास्थ्य कर्मचारियों ने सरकार की नीतियों के खिलाफ कैंडल जलाकर रोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि सरकारी कर्मचारियों का 18 महीने का डीए कटौती का निर्णय अत्यंत निंदनीय है।

हर स्वस्थ कर्मचारी इस मुसीबत की घड़ी में अपने देश के लिए चौबीसों घंटे घर परिवार को छोड़कर इस कोरोना वायरस जैसी महामारी से लड़ने के लिए खड़ा है। सभी चिकित्सक व स्वास्थ्य कर्मी दिन-रात 24 घंटे अपना जीवन दांव पर लगाते हुए देश की जनता के लिए समर्पित है।

सरकार द्वारा 18 महीनों का डीए कटौती का निर्णय निंदनीय है। स्वास्थ्य कर्मियों ने सरकार द्वारा लिए गए निर्णय पर पुन विचार करने की मांग की ।

स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए कैंडल जला कर सरकार की नीतियों के खिलाफ रोष व्यक्त किया। रोष व्यक्त करने वालों में अरविन्द तोमर, सुरेंद्र कुमार विरेंदर कुमार, जैनेन्द्र कुमार विवेक कुमार, ममता ,बबिता थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Rage against government policies in health workers